कुंभ के आयोजन पर 2019 के आम चुनाव की राजनीति को साफ देखा जा सकता है. इसके चलते अब कुंभ धर्म का नहीं राजनीति का कुंभ बनकर रह जा रहा है.

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार कुंभ को अपने सरकारी प्रचार प्रसार का जरीया बना रही है. कुंभ की तैयारी में पूरी सरकारी मशीनरी जुट गई है. कुंभ का आयोजन इलाहाबाद में होता था. इलाहाबाद का नाम बदल कर प्रयागराज हो गया है. इस बार प्रयागराज में सरकार कुंभ को नये अंदाज में मनाने जा रही है. इसके बीच ही प्रयागराज से सटे वाराणसी जिले में 100 से ज्यादा मेहमानों को बुलाया जा रहा है. इसका नाम भी कुंभ से जोडकर ‘प्रवासी कुंभ’ रखा जा गया है.

Tags:
COMMENT