रक्षा संबंधी हथियारों के मामले में भारत आज भी दूसरे देशों पर निर्भर है. एनडीए सरकार ने मेक इन इंडिया का नारा दिया था पर पिछले साढे चार साल के दौरान देश में कितनी कंपनियों ने आ कर उत्पादन शुरू किया, इस सवाल का जवाब नहीं होगा. हां, इस दौरान सरकार ने विदेशों से अनगिनत सौदे किए हैं. रूस के साथ एस-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली का सौदा भी उसी कड़ी का एक हिस्सा है.

COMMENT