उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिये कांग्रेस ने जब घोषणापत्र जारी किया तो युवाओं और महिलाओं की जोरशोर से बात की. घोषणा पत्र जारी करने वालों में युवा तो कोई था ही नहीं और महिला के नाम पर दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ही मौजूद थी. 125 साल पुरानी कांग्रेस में युवा नेताओं को उपर आने नहीं दिया जा रहा. यही नहीं इन नेताओं में ज्यादातर उत्तर प्रदेश के बाहर के हैं. जिनका उत्तर प्रदेश से कोई भावनात्मक लगाव नहीं है. ऐसे में यह लोग लोकल युवा नेताओं को मंच तक पहुंचने ही नहीं देते. एक नजर डालिये घोषणाप़त्र जारी करने वाले इन नेताओं और उनकी उम्र पर.

COMMENT