सिंगल पेरैंट डेटिंग टिप्स  पिछले रिश्ते से निकलने के बाद कुछ समय इंतजार करें. आप को अकेलापन महसूस हो सकता है, पर नए रिश्ते में जल्दबाजी न करें. आप एक असफल रिश्ते से बाहर आए हैं. सो, यह मनन जरूर करें कि कहां क्या गलत हुआ, आप का इस में कितना योगदान था. वरना आप ये इश्यूज नए रिश्ते में भी ले कर चल सकते हैं. और आप के सामने फिर वही स्थिति आ सकती है और फिर तनाव ?झेलना पड़ सकता है

यदि आप में आत्मविश्वास की कमी हो तो किसी थेरैपिस्ट से मिलने में कोई बुराई नहीं. द्य यह स्वीकार कर लें कि आप की फैमिली लाइफ पर डेटिंग के बाद असर पड़ेगा. कोई अपराधबोध न पालें. आप के जीवन में इस से खुशी आ सकती है, तो जरूर आगे बढ़ें. द्य अच्छी तरह सोच लें कि आप को नए पार्टनर से क्या चाहिए. देख लें कि उस में कितना पेशंस है, क्योंकि आप सिंगल पेरैंट हैं. आप को अपने बच्चे के साथ उस का व्यवहार कैसा है, यह भी देखना होगा.  बच्चा आप की डेटिंग पर क्या रिऐक्शन देगा,

ये भी पढ़ें-जब डेट पर जाएं सिंगल पेरैंट

यह चिंता स्वाभाविक है. पर यह डर अपने ऊपर हावी न होने दें. बच्चों से बात करते रहिए, इसे राज बना कर न रखें. उन्हें उन के मन की बात कहने दें. आप के बच्चे यंग हैं, तो उन्हें आराम से सम?ाइए कि डेटिंग है क्या. उन्हें बताएं कि एडल्ट्स के लिए आपस में मिलना, दोस्त बनना नैचुरल है.

ये भी पढ़ें-बच्चों को डांटें मगर प्यार से

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT