पतिपत्नी के रिश्ते का समीकरण काफी जटिल होता है. जब भी सत्ते का पलड़ा एक ओर झुक जाता है तो रिश्ते के बीच का संतुलन डगमगाने लगता है. प्रयास न किया जाए तो वह बिखर भी सकता है यानी बात तलाक तक जा पहुंचती है. तलाक से फायदा किसी को नहीं होता. दोनों के जीवन में  एक ब्रेक लग जाता है.

Tags:
COMMENT