पोषाहार पाककला और चिकित्सा विज्ञान का उत्तम समन्वय ही नहीं, रोग के निदान और स्वस्थ जीवन की कुंजी भी है. बहुत कम डाक्टर सही मायनों में मरीजों को यह कुंजी थमाने में प्रवीण होते हैं.

पाकशास्त्री डाक्टर के नाम से मशहूर डाक्टर टिमोथी हार्लन सैंटर के कार्यकारी निदेशक हैं. उन का मत है कि हर चिकित्सक का एक ही ध्येय है जन स्वास्थ्य. लोगों के जंक और फास्ट फूड की तरफ बढ़ते रुझान से मोटापा और मधुमेह आज विकराल रूप धारण करते जा रहे हैं. आज इन के उपचार से पहले इन की रोकथाम करनी ज्यादा जरूरी है. इसीलिए अब डाक्टर सही खानपान की सलाह देने लगे हैं. महंगी खा-सामग्री के कम खर्चीले विकल्प बताने लगे हैं. बाल चिकित्सक सब से अधिक गुणकारी सब्जियों में छोटे बच्चों की रुचि बढ़ाने के तरीके सुझाने लगे हैं.

ये भी पढ़ें- कम बजट में ऐसे बनाएं टेस्टी दाल सूप और धनिया आलू चाट

स्वाद में सेहत जगाएं ऐसे

दैनिक खानपान को सुस्वादु बनाने के बहुत से सरल तरीके हैं. जैसे कि:

- ब्रेकफास्ट का सब से उत्तम विकल्प है स्मूदी. शहद, लो फैट दूध, दही और सहज उपलब्ध फल या ज्यादा पके केलों का पौष्टिक ब्लैंड पी कर भूख जल्दी नहीं लगेगी. संतरे, अनार, आम, स्ट्राबैरी के अलावा खरबूजे, तरबूज, अमरूद या टमाटर, पालक आदि के चटपटे जूस की कौकटेल्स बनाइए.

 

- गाजर, मूली, खीरे, ककड़ी आदि के पतले कतलों को थोड़ से शहद, कुचली लहसुन की कलियों, सेंधा नमक, साबूत काली व लालमिर्च के साथ नीबू या सिरके की खटास में धनिएपुदीने के पेस्ट से चटपटा सलाद या अचार बनाया जा सकता है.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT