जैसा कि सभी को पता है कि इस बार मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का ये पहला बजट है और इस बात में कोई दोराय नहीं है कि इस बार एक महिला वित्त मंत्री ने बजट पेश किया है, तो महिलाओं को तो उम्मीद होगी ही कि क्या सस्ता होगा और क्या मंहगा? निर्मला सीतारमण देश की पहली पूर्णकालिक महिला वित्त मंत्री हैं और महिलाओं को उम्मीद भी उनसे काफा ज्यादा है.

महिलाओं को सबसे ज्यादा चिंता इसी बात की होती है कि कहीं घरेलू सामान जैसे आटा,दाल,सब्जी जो रोजमर्रा की चीजें हैं वो न महंगी हो क्योंकि घर को चलाना आसान नहीं होता है और महिलाओं को अच्छी तरह पता है कि अगर चीजें महगी हुई तो घर चालाना मुश्किल हो जाएगा. कुछ महिलाओं से बात की हमनें उनका कहना था कि पतियों का क्या है वो तो बस पैसे लाकर दे जाते हैं.

लेकिन जितना देते हैं उतने में एक गृहिणी होने के नाते मुझे सबकुछ मैनेज करना होता है और अगर महंगाई बढ़ेगी बजट हमारे अनुकुल नहीं हुआ तो फिर काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है. वहीं एक दूसरी महिला ने कहा कि मैं वर्किंग वुमन हूं और डेली जाती हूं बाहर मेरी गाड़ी है तो मैं तो यही चाहूंगी कि पेट्रोल महंगा न हो. कभी-कभी हम बाहर खाना खाने जाते हैं तो ऐसे में रेस्टोरेंट्स महंगे न हो. वहीं एक बुजुर्ग मिडिल क्लास की महिला से पूछने पर ये जवाब मिला कि हम तो एकदम नार्मल जिंदगी जीते हैं और ऐसे मैं वित्त मंत्री से यही उम्मीद है कि हमारे रोजमर्रा की चीजें महंगी न हो. हमारे घर में बेटियां है उनकी शादी करनी है. गहने न महंगे हो हम इतना पैसा कहां से ला पाएंगे और शादी भी जरूरी होती है. हालांकि सिर्फ महिलाएं ही नहीं बल्कि पुरुष भी इन चीजों को लेकर काफी परेशान रहते हैं कि आखिर सरकार बजट में क्या सौगात देगी. आइए अब जरा जानते हैं कि इस बार ऐसी कौन सी वस्तुएं महंगी और सस्ती हुईं है जिनसे महिलाओं पर फर्क पड़ेगा.

1.वित्त मंत्री ने अपने पहले ही बजट में महिलाओं को बड़ी सौगात दी है और महिलाओं को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने की कोशिश की हैं, अब खाताधारक महिलाओं को 5,000 रुपये ओवरड्राफ्ट की सुविधाएं दी जाएंगी और ‘नारी तू नारायणी’ की घोषणा करते हुए का कि मुद्रा योजना के तहत महिलाओं को 1 लाख का लोन दिया जाएगा.

2. गहनों को लेकर महिलाओं को थोड़ी निराशा हो सकती है क्योंकि सोना और चांदी महंगा हो गया है.

3. अतिरिक्त टैक्स में कामकाजी महिलाओं को कोई राहत नहीं है.

4. वित्त मंत्री ने कहा कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था में महिला की भागीदीरी एकदम सुनहरी कहानी है …इस सरकार ने महिलाओं की भूमिका को बढ़ाया है और महिला केंद्रित पौलिसी के तहत महिला लीडरशीप को आगे लाने की कोशिश की जा रही हैं.

5.वित्त मंत्री ने कहा इस चुनाव में महिलओं ने रिकौर्ड तोड़ मतदान किए हैं. 78 महिला सांसद चुनी गई हैं, जो महिलाओं के लिए एक अच्छी बात है और महिलाओं को इससे काफी मजबूती मिलेगी.

6. वित्त मंत्री ने ये भी कहा की उज्जवला योजना की वजह से देश की महिलाओं को धुंए से छुटकारा मिला है,हमने महिलाओं के सम्मान के लिए शौचालय बनवाएं हैं और आगे भी इस पर ध्यान दिया जाएगा. क्योंकि देश को नई ऊंचाइयों पर ले जाना है.

7. घरेलू वस्तुएं सस्ती हो गई हैं इससे महिलाओं को काफी राहत होगी. बरतन भी सस्ते हो गए हैं.

Tags:
COMMENT