उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक आम की बागवानी ही होती है. अब आम के प्रदेश में आडू ने दस्तक दे दी है. यही वजह है कि अब उत्तर प्रदेश में आडू दिवस मनाया जाने लगा है. इस साल लखनऊ के फल बाजार में लखनऊ के ही आड़ू बिकने आ गये हैं आड़ू की खेती आमतौर पर पहाडों पर होती थी. अब आडू की ऐसी किस्म भी तैयार हो गई है जिसकी खेती मैदानी इलाकों में भी हो रही है. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में तमाम किसान अब इसकी खेती करते है.आड़ू की उत्पति को लेकर अलग-अलग तरह के विचार है. कुछ लोग आड़ू की उत्पत्ति का स्थान चीन को मानते है और कुछ इसे ईरान का मानते है. यह पर्णपाती वृक्ष है, भारत के पर्वतीय तथा उप पर्वतीय भागों में इसकी सफल खेती होती है.

ये भी पढ़ें-कोविड-19 प्रकोप के दौरान पोषण सलाह

इसके ताजे फल खाए जाते हैं. फलों से चटनी भी बनती है. फल में चीनी की मात्रा पर्याप्त होती है.जहाँ जलवायु न अधिक ठंडी न अधिक गरम हो और 15 डिग्री फारनहाइट. से 100 डिग्री फारनहाइट तक के ताप वाले पर्यावरण मे इसकी खेती सफल हो सकती है. इसकी अच्छी पैदावार के लिये लिए सबसे उत्तम मिट्टी बलुई दोमट है. आड़ू का फल ऐसे समय पर पक कर तैयार होता है, जिस समय बाजार में ज्यादा फल नहीं होते हैं. ऐसे में फल 200 रुपये प्रति किग्रा की दर से बिकता है.बहुत से किसानों ने आड़ू  के पौधे पहली बार देखे. इन लोगों ने दूसरे किसानों को खेती करते देखकर इसे शुरू किया. दो ही वर्षो में पौधों पर अच्छी संख्या में लगे फल देखकर काफी उत्साहित होकर इसकी खेती करनी शुरू कर दी . आड़ू की खेती आडू के पौधे 15 से 18 फुट की दूरी पर दिसंबर या जनवरी के महीने में लगाए जाते हैं. सड़े गोबर की खाद या कंपोस्ट 80 से 100 मन तक प्रति एकड़ प्रति वर्ष नवंबर या दिसंबर में देना चाहिए. जाडे में एक या दो तथा ग्रीष्म ऋतु  में प्रति सप्ताह सिंचाई करनी चाहिए.

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

सरिता डिजिटल

डिजिटल प्लान

USD4USD2
1 महीना (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

डिजिटल प्लान

USD48USD10
12 महीने (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

प्रिंट + डिजिटल प्लान

USD100USD79
12 महीने (24 प्रिंट मैगजीन+डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...