सुनहरे गेहूं की तमाम किस्मों को विकसित करने के बाद कृषि वैज्ञानिकों ने एक नई किस्म काला गेहूं यानी ब्लैक व्हीट तैयार किया है. यह गेहूं सेहत के लिए काफी फायदेमंद है.

अब तक गल्ला मंडी में वैसे भी सभी लोगों ने सुनहरे रंग का ही गेहूं देखा होगा, पर अब मंडी में काला गेहूं देखने को मिल रहा है. गल्ला मंडी, सीहोर में पिछले दिनों यह काला गेहूं बिकने आया, जो हाथोंहाथ बिक गया.

वजह, एक तो इस गेहूं की काफी ज्यादा मांग है, क्योंकि यह सेहत के लिए बहुत ही लाभकारी है. वहीं इस किस्म का गेहूं पूरी तरह से काला है.

ये भी पढ़ें- पैगांबरी किस्म है शुगर फ्री

गल्ला मंडी, सीहोर में काला गेहूं की सब से ऊंची बोली लगा कर 4001 रुपए के भाव में खरीदा गया. काला गेहूं की मांग उस के प्रोटीन से भरपूर होने के कारण बहुत अधिक है. साथ ही, कई बीमारियों में भी यह फायदेमंद है.

विगत 2 सालों से शाजापुर और सीहोर से लगे ग्रामीण इलाकों के कुछ उन्नतशील किसान इस गेहूं को उगाने की निरंतर कोशिश में थे. इस साल यह गेहूं सीहोर गल्ला मंडी में भी अपनी दस्तक दे चुका है.

क्या है काला गेहूं

असल में सुनहरे गेहूं की तरह ही काले रंग के गेहूं की किस्म विकसित की गई है. इस का छिलका पूरा काला होता है, लेकिन अंदर में यह सफेद ही रहता है. इस के आटे की सफेदी कुछ कम रहती है. खाने में सामान्य स्वाद है, लेकिन यह 3-4 घंटे में ही पच जाता है.

ये भी पढ़ें-बागबानों को उन्नति का रास्ता दिखा रहा फल उत्कृष्टता केंद्र

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT