उत्तर प्रदेश में मुंह की खाने के बाद मुलायम व अखिलेश यादव की तरह जो नेता उम्मीदभरी निगाहों से इधरउधर खासतौर से मध्य प्रदेश की तरफ देख रहे हैं, बसपा सुप्रीमो मायावती उन में से एक हैं. मध्य प्रदेश, गिन कर ही सही, बसपा को कुछ सीटें जरूर हर विधानसभा चुनाव में देता रहा है. इस बार मायावती की कोशिश दहाई का आंकड़ा पार करने की दिख रही है. इस बाबत बसपा ने उन की एक कथित विशाल आमसभा का आयोजन भी भोपाल में कर डाला जिसे सुपर फ्लौप कहने से कोई परहेज नहीं कर रहा क्योंकि भीड़ उम्मीद से बहुत कम थी.

COMMENT