टैलीविजन सीरियल ‘दिव्य दृष्टि’ में सिमरन का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री सृष्टि माहेश्वरी ने कम ही समय में अपनी अलग पहचान बनाई है. उन्होंने टैलीविजन पर पहला सीरियल ‘दो दिल बंधे एक डोरी से’ किया. उस के बाद ‘थपकी प्यार की’, ‘ब्रह्मराक्षस’, ‘गुमनाम’, ‘अलादीन’ आदि सीरियलों में काम किया. उन्होंने बौलीवुड में भी कदम रखा औैर फिल्म ‘शादी तेरी बजाएंगे हम बैंड’ में वे दिखाई दीं. वे रेडियो पर आरजे मंत्रा के साथ अपनी आवाज का जादू बिखेरने की कोशिश करती हैं. यहां पेश हैं, सृष्टि माहेश्वरी से हुई बातचीत के खास अंश :

आप का अभिनय के क्षेत्र में कैसे आना हुआ? पूछने पर सृष्टि माहेश्वरी कहती हैं, ‘‘जब मैं 8वीं क्लास में थी तब मैं ने थिएटर किया था और टीवी पर आने से पहले मैं ने काफी तैयारी की थी. एक बार डायरैक्टर रंजीत कपूर बरेली आए हुए थे, बच्चों के औडिशन चल रहे थे. मैं भी अपनी मम्मी के साथ वहां गई थी. मैं ने डायरैक्टर रंजीत कपूर के साथ ‘रंग विनायक’ में काम किया था.’’

अभी तक के जीवन की कोई खास घटना? दिमाग पर जोर डालते हुए वे कहती हैं, ‘‘घटनाएं तो बहुत सी हैं. मैं आर्मी अफसर बनना चाहती थी और ऐक्टर बन गई. मैं ने 5 साल तक इस के लिए जीतोड़ तैयारी की थी. एनसीसी का सी सर्टिफिकेट भी लिया और कई कैंप किए, मैं स्टेट लैवल तक ऐथलीट भी रही हूं.’’

मी टू जैसे मूवमैंट पर अपनी राय जाहिर करते हुए सृष्टि माहेश्वरी कहती हैं, ‘‘मेरी नजर में मी टू मूवमैंट अच्छा है. इस मूवमैंट का गहरा असर पड़ा है. अब कोई भी आसानी से किसी को कुछ कहने की हिम्मत नहीं करता है. पर मैं यह भी कहना चाहती हूं कि इस का गलत इस्तेमाल भी हुआ है. मैं महसूस करती हूं कि लड़कियां भी कुछ कम नहीं हैं. सो, दोनों पक्षों की बात को सुना जाना चाहिए.’’

SAKHI-3

ये भी पढ़ें- जम्मू कश्मीर विवाद: धारा 370 का बौलीवुड पर असर, टली फिल्म की शूटिंग

परिवार के बारे में पूछे जाने पर वे बताती हैं, ‘‘मेरे 2 भाई और एक बहन हैं. मेरे पापा डाक्टर हैं और मम्मी गायनोकोलौजिस्ट. बहन श्रद्धा मुझ से एक साल बड़ी हैं जो डैंटल सर्जन हैं. मेरा एक भाई अक्षय इंजीनियरिंग कर चुका है और छोटा भाई आदित्य 12 वीं कर चुका है.’’

आप अपना प्रेरणास्रोत किसे मानती हैं? के पूछने पर उन का कहना है,‘‘मैं मम्मी को अपना प्रेरणास्रोत मानती हूं. बचपन से ही मैं ने मम्मी को बहुत मेहनत करते देखा है.’’

आप के और क्याक्या शौक हैं? इस सवाल पर वे मुसकराती हुई कहती हैं, ‘‘डांस करने का शौक है. समय मिलने पर वीडियो गेम्स खेलती हूं, कभीकभी बास्केट बौल भी खेल लेती हूं. इस के अलावा पढ़ने और म्यूजिक सुनने का शौक है. औैर हां, घर पर खाना बनाने का शौक भी रखती हूं.’’

आप के सपनों का राजकुमार कैसा होगा? इस पर वे कुछ ठहरती हैं, फिर कहती हैं, ‘‘सपनों का राजकुमार क्यों कहना है. जो होगा वो राजकुमार ही होगा, इसलिए मैं सपने नहीं देखती हूं. मैं आज में यकीन रखती हूं. जिसे सपनों की राजकुमारी चाहिए होगी उस से पूछना है कि उसे कैसी राजकुमारी चाहिए?’’

टैलीविजन और फिल्मों में तालमेल बैठाने की बाबत सृष्टि कहती हैं, ‘‘जब आप 2 चीजों को कर रहे होते हैं तो बीच में थोड़ाबहुत कन्फ्यूजन हो ही जाता है, क्योंकि हर किसी को प्राथमिकता देनी होती है. सो, मैं अच्छे से बात करती हूं, बैठती हूं, मैं अपनी बात रखती हूं. दोनों चीजें तो करनी ही हैं. अगर कैरियर बनाना है तो मेहनत भी करनी है.’’

फिल्म ‘शादी तेरी बजाएंगे हम बैंड’ में आप के काम की तारीफ हुई है. आप कैसा महसूस कर रही हैं? इस सवाल पर वे खुल कर हंसती हैं, फिर बताती हैं, ‘‘बहुत अच्छा महसूस कर रही हूं. बडे़ परदे पर आना मेरे लिए काफी खुशी की बात थी. फिल्म छोटी हो या बड़ी, इस से फर्क नहीं पड़ता है. पर इतनी बड़ी स्क्रीन पर आ रहे हो, इस से फर्क पड़ता है. राहुल बग्गा, राजपाल यादव के साथ काम कर के बहुत अच्छा लगा. सभी ने काफी सपोर्ट किया.’’

भविष्य में आप की क्या योजना है? इस सवाल पर गंभीर होते हुए वे कहती हैं, ‘‘मैं फ्यूचर प्लानिंग नहीं करती हूं. कल अगर खराब गया है तो उसे आज ही सुधार लो. मैं रोज मेहनत करती हूं ताकि मेरा कल खराब न हो.’’

sakhiii

‘बिग बौस सीजन 7’ का अनुभव कैसा रहा? यह पूछे जाने पर वे खुश हो जाती हैं, कहती हैं, ‘‘काफी यादगार था, क्योंकि जब मैं पहली बार सलमान खान सर से मिली थी, उस समय 17 साल की थी. टीवी पर काम करना, वह भी सलमान खान के साथ स्क्रीन शेयर करना, मेरे लिए बहुत बड़ी बात थी.’’

आप की नजर में सलमान खान कैसे ऐक्टर हैं और कैसे इंसान हैं? इस सवाल पर वे गर्व महसूस करती हुई कहती हैं, ‘‘सलमान खान के साथ काम करना मेरी यादों में शुमार है. वे बहुत ही अच्छे ऐक्टर हैं. लेकिन यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप को स्क्रिप्ट कैसी मिल रही है. ऐक्टर भी वही करता है जो स्क्रिप्ट में होता है. व्यक्तिगत तौर पर वे काफी सपोर्ट करते हैं.’’

ये भी पढ़ें- जम्मू कश्मीर धारा 370: जानें बौलीवुड सेलेब्स का रिएक्शन

अब तो आप रेडियो जौकी भी हैं. यह कैसे हुआ? इस पर उन का कहना है, ‘‘हर घर में टैलीविजन पहुंच गया है. लोग टीवी पर आप की ऐक्टिंग को देख रहे हैं, पर रेडियो जौकी में काम करना बहुत अच्छा लग रहा है. रेडियो सीरीज करना मतलब आप को लोग सुन रहे हैं, आप की आवाज, आप के बोलने का लहजा, आप के परफौर्म करने का तरीका जो लोगों को उस दुनिया में ले जाए जो कहानी उन के सामने चल रही है. सो, ऐक्टर हूं, हर ऐक्टिंग की फील्ड में जाने की कोशिश कर रही हूं.’’

आप अपनेआप को खूबसूरत बनाए रखने के बारे में वे कहती हैं, ‘‘मैं अपने घर में हमेशा से स्लीपिंग ब्यूटी रही हूं. मुझे सोना बहुत पसंद है. जहां भी मौका मिलता है, मैं बीचबीच में नैप यानी झपकी ले लेती हूं. मैं सैट पर भी सो लेती हूं. लोग ढूंढ़ते हैं, परेशान होते हैं, पर आखिर में किसी एक कोने में मुझे सोता देख कर चैन की सांस लेते हैं.’’

अपनी फिटनैस के बारे में सृष्टि बताती हैं, ‘‘मेरी फिटनैस का राज यही है कि मैं बाहर का खाना खाने से बचती हूं. घर की बनी चीजें खाओ और हैल्दी रहो. अगर फिट रहना है तो थोड़ाबहुत कार्डियो कर लो, रनिंग कर लो. मैं आप को बता दूं कि मैं स्टेट लैवल तक ऐथलीट रह चुकी हूं. मैं ऐथलीट हूं, डांसर हूं. ये सारी चीजें मुझे फिट रखने में काफी मददगार रहती हैं.’’

आप अपने चाहने वालों को कोई संदेश देना चाहेंगी? इस पर उन का कहना है, ‘‘मैं अपने चाहने वालों से यही कहूंगी कि आप पूरी तैयारी से यहां आइए. आप अपनी पढ़ाई बीच में न छोडि़ए, वरना यहां संघर्ष बहुत है.’’

ये भी पढ़ें- राखी सावंत ने अपनी शादी छुपाने की ये वजह बताई

Tags:
COMMENT