टैलीविजन सीरियल ‘दिव्य दृष्टि’ में सिमरन का किरदार निभाने वाली अभिनेत्री सृष्टि माहेश्वरी ने कम ही समय में अपनी अलग पहचान बनाई है. उन्होंने टैलीविजन पर पहला सीरियल ‘दो दिल बंधे एक डोरी से’ किया. उस के बाद ‘थपकी प्यार की’, ‘ब्रह्मराक्षस’, ‘गुमनाम’, ‘अलादीन’ आदि सीरियलों में काम किया. उन्होंने बौलीवुड में भी कदम रखा औैर फिल्म ‘शादी तेरी बजाएंगे हम बैंड’ में वे दिखाई दीं. वे रेडियो पर आरजे मंत्रा के साथ अपनी आवाज का जादू बिखेरने की कोशिश करती हैं. यहां पेश हैं, सृष्टि माहेश्वरी से हुई बातचीत के खास अंश :

आप का अभिनय के क्षेत्र में कैसे आना हुआ? पूछने पर सृष्टि माहेश्वरी कहती हैं, ‘‘जब मैं 8वीं क्लास में थी तब मैं ने थिएटर किया था और टीवी पर आने से पहले मैं ने काफी तैयारी की थी. एक बार डायरैक्टर रंजीत कपूर बरेली आए हुए थे, बच्चों के औडिशन चल रहे थे. मैं भी अपनी मम्मी के साथ वहां गई थी. मैं ने डायरैक्टर रंजीत कपूर के साथ ‘रंग विनायक’ में काम किया था.’’

अभी तक के जीवन की कोई खास घटना? दिमाग पर जोर डालते हुए वे कहती हैं, ‘‘घटनाएं तो बहुत सी हैं. मैं आर्मी अफसर बनना चाहती थी और ऐक्टर बन गई. मैं ने 5 साल तक इस के लिए जीतोड़ तैयारी की थी. एनसीसी का सी सर्टिफिकेट भी लिया और कई कैंप किए, मैं स्टेट लैवल तक ऐथलीट भी रही हूं.’’

मी टू जैसे मूवमैंट पर अपनी राय जाहिर करते हुए सृष्टि माहेश्वरी कहती हैं, ‘‘मेरी नजर में मी टू मूवमैंट अच्छा है. इस मूवमैंट का गहरा असर पड़ा है. अब कोई भी आसानी से किसी को कुछ कहने की हिम्मत नहीं करता है. पर मैं यह भी कहना चाहती हूं कि इस का गलत इस्तेमाल भी हुआ है. मैं महसूस करती हूं कि लड़कियां भी कुछ कम नहीं हैं. सो, दोनों पक्षों की बात को सुना जाना चाहिए.’’

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT