भारत एक कृषि प्रधान देश है. यहां एक ओर किसान आत्महत्या करते हैं तो वही दूसरी ओर कुछ किसान आधुनिक कृषि प्रणाली का इस्तेमाल कर करोड़पति भी हैं. जी हां, आपको एक ऐसे गांव के बारे में बताएंगे, जहां के किसान करोड़पति हैं.

महाराष्ट्र के बारे में आप तो जानते ही होंगे. भले ही यह सूखा प्रभावित राज्य है लेकिन यहां पर एक ऐसा भी गांव है जहां के लोग करोड़पति हैं. यहां की आबादी 300 लोगों से ज्यादा है, जिसमें से 80 से ज्यादा लोग करोड़पति हैं.

महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले का हिवरे बाजार गांव है. यहां के किसान आत्महत्या नहीं करते बल्कि अच्छी और उन्नत खेती कर करोड़पति है. हिवरे बाजार गांव के किसानों के करोड़पति होने के पीछे भी एक रोचक कहानी है.

दरअसल 1990 में यहां 90 फीसदी परिवार गरीब थे. हिवरे बाजार 80-90 के दशक में भयंकर सूखे से जूझ रहे थे. गांव में महज 93 कुएं ही थे. पीने तक के लिए पानी नहीं बचा. कुछ लोग अपने परिवारों के साथ दूसरी जगहों पर चले गए. पानी का स्तर भी 82-110 फीट नीचे पहुंच गया था. फिर लोगों ने खुद को बचाने की कवायद शुरू की.

ये भी पढ़ें- अगस्त के पहले रविवार को ही क्यों मनाया जाता है फ्रेंडशिप डे, जानें यहां

Tags:
COMMENT