एक रोबॉट के साथ सेक्स करने का आइडिया सुनने में साइंस फिक्शन फिल्म जैसा लगता है, लेकिन हर 5 में से 1 व्यक्ति इस आइडिया के बारे में सोचता है. एक ताजा सर्वे में यह बात सामने आई है. सर्वे के अनुसार, 21% ब्रिटिश लोग रोबॉट से सेक्स करेंगे और हर 3 में से 1 व्यक्ति रोबॉट के साथ डेट पर जाएगा. फ्यूचर टेक्नॉलजी पर एक्सपर्ट्स का मानना है कि 2050 तक इंसान का रोबॉट के साथ सेक्स करना एक आम बात हो जाएगी.

सर्वे में 18 साल के 2816 सेक्शुअली ऐक्टिव ब्रिटिश युवाओं पर सर्वे किया था. सर्वे में सवाल किया गया था कि वे साइबॉर्ग के साथ कौन-सी एक्टिविटी करना चाहेंगे. गौरतलब है कि साइबॉर्ग उस वस्तु को कहा जाता है जिनमें ऑर्गैनिक और बायोमकैट्रॉनिक बॉडी पार्ट्स होते हैं. तो इसके जवाब में रिसर्चर को अलग अलग जबाव मिला.

कुछ लोगों ने जवाब में साइबॉर्ग से सेक्स करने के लिए कहा था, रिसर्चर ने उनसे ऐसा करने का कारण पूछा. उनमें से भी 72% लोगों ने कहा कि रोबॉट इस काम के लिए अच्छे रहेंगे, वहीं 28% ने कहा कि यह उनके लिए नया अनुभव होगा.

यह तकनीक डॉ. इयन पियर्सन की एक रिपोर्ट को फॉलो करता है, जिसमें डॉ. पियर्सन ने कहा था कि 2050 तक लोगों की नजर में रोबॉट्स से सेक्स करना इंसान की तुलना में ज्यादा आम बात हो जाएगी.

डॉ. पियर्सन ने कहा कि रोबॉट्स बिल्कुल इंसानों की तरह ही दिखेंगे. आने वाले समय में लोग अपने सेक्स बॉट्स को अपनी कार की तरह देखेंगे और उनपर हजारों रूपये खर्च कर देंगे. कुछ लोग रोबॉट्स को सिर्फ सेक्स के लिए ही खरीदेंगे. कुछ उनसे बाद में आकर्षित हो सकते हैं लेकिन सेक्शुअली अट्रैक्टिव रोबॉट्स ही ज्यादा प्रचलित हो पाएंगे.

ऑनलाइन सेक्स टॉय रिटेलर लवहनी के कॉ-ओनर नील स्लेटफॉर्ड ने कहा, ‘यह तकनीक हमेशा ही विकसित होती रहती है, जिसके कारण इसमें कीमतें आमतौर पर सामान्य लोगों की पहुंच से बाहर होती हैं. हम तीन साल से इस तरह के प्रॉडक्ट्स बेच रहे हैं और इनकी कीमतें निस्संदेह रूप से कम होंगी. यह बहुत अच्छे प्रॉडक्ट्स हो सकते हैं. अपने निजी जिंदगी में लाइफ पार्टनर के साथ एक तीसरे शख्स को रखने का यह एक सबसे अच्छा तरीका हो सकेगा, जिसमें तलाक का डर भी नहीं रहेगा.

सर्वे में क्या पाया गया?

सर्वे में पूछा गया था कि आप रोबॉट के साथ क्या करना चाहेंगे?

कुक/सफाई कर्मी बनाएंगें: 45%

उनसे बातचीत करेंगे: 41%

उनसे खुद के सारे काम कराएंगें: 38%

उनके साथ सेक्स करेंगे: 21%

उनके साथ गेम खेलेंगे: 12%

क्या सेक्सबॉट्स से सेक्स क्राइम रुकेगा?

कई लोग सेक्सबॉट्स के तरह तरह के फायदे देख रहे हैं. बिहेवियर थेरेपिस्ट निकोलस ऑजुला इन्हें सेक्स के तरफ बेहद आकर्षित लोगों के लिए काम का माना. उनका मानना है कि यह सेक्स क्राइम में कमी लाने में कारगर साबित होंगे. ऑजुला ने कहा, ‘मेरा मानना है कि आने वाले कुछ सालों में सेक्स टॉयज सेक्स करने के लिए एक सुरक्षित और सबसे अच्छा साधन हो सकते हैं क्योंकि इनमें ज्यादा क्रिएटिव सेक्स की गुंजाइश होती है.’