दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन टेस्ट में गेंद से छेड़छाड़ के दोषी पाए गए औस्ट्रेलियाई खिलाड़ी स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर पर क्रिकेट औस्ट्रेलिया (सीए) ने एक साल का प्रतिबंध लगाया है. वहीं, इस विवाद में शामिल सलामी बल्लेबाज कैमरून बेनक्रौफ्ट को नौ महीने के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया है. ये तीनों खिलाड़ी प्रतिबंध की समयावधि के दौरान अंतरराष्ट्रीय और घरेलू क्रिकेट से दूर रहेंगे. स्मिथ और वार्नर दोनों को ही अपनी इस गलती का पछतावा है और दोनों खिलाड़ी अपनी इस गलती के लिए माफी भी मांग रहे हैं. प्रेस कौन्फ्रेंस के दौरान दोनों ही खिलाड़ी फूट-फूटकर रोते हुए दिखाई दिए.

औस्ट्रेलिया के प्रतिबंधित सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर ने गेंद छेड़छाड़ प्रकरण में अपनी भूमिका के लिए माफी मांगी और कहा कि उन्होंने उस खेल को दागदार किया जिसे वह बचपन से पसंद करते थें.

वार्नर दक्षिण अफ्रीका में हुए इस प्रकरण की योजना बनाने के मुखिया साबित हुए, जिससे उन पर और कप्तान स्टीव स्मिथ पर एक साल का प्रतिबंध लगा. दोनों खिलाड़ियों पर इस साल होने वाली इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2018) में भाग लेने से भी रोक लगा दी गई.

वार्नर ने अपनी गलती के लिए माफी मांगते हुए कहा, ‘‘मैं इसके लिए माफी मांगता हूं और इसकी जिम्मेदारी लेता हूं. मैं समझ सकता हूं कि इससे खेल को कितना नुकसान और इसके प्रशंसकों को कितना दुख पहुंचा होगा. हम सभी जिस खेल को पसंद करते हैं और बचपन से मैं जिस खेल को पसंद करता था, यह उस पर दाग है.’’

वार्नर ने प्रेस कौन्फ्रेंस के दौरान संन्यास की संभावनाओं से इनकार किया. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मैंने जो कुछ भी किया उसके लिए कोई सफाई नहीं दी जा सकती है. मैं इसके लिए माफी मांगता हूं. औस्ट्रेलिया की जनता की नजरों में अपने लिए सम्मान वापस पाने के लिए मैं कुछ भी करने के लिए तैयार हूं.

उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि वह 12 महीने के प्रतिबंध के बाद एक बार फिर औस्ट्रेलिया के लिए खेलेंगे. उन्होंने साथ ही कहा, ‘मेरे दिमाग में कहीं न कहीं यह बात भी है कि एक दिन फिर मुझे अपने देश का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिलेगा, लेकिन हो सकता है कि शायद वह दिन अब कभी न आए.

पूरी प्रेस कौन्फ्रेंस के दौरान वौर्नर लगातार माफी मांगते रहें. उन्होंने कहा, ‘सभी औस्ट्रेलियाई नागरिक, भले ही आप क्रिकेट फैन हों अथवा नहीं, मैं आप सबसे अपने काम से देश की प्रतिष्ठा को हुए नुकसान के लिए माफी मांगता हूं मैं क्रिकेट के जरिए अपने देश के लिए सम्मान अर्जित करना चाहता था.’ उन्होंने कहा कि बतौर उपकप्तान वह अपनी जिम्मेदारियां निभाने में नाकाम रहें.

गौरतलब है कि इस प्रकरण में क्रिकेट औस्ट्रेलिया की जांच में निकला कि स्मिथ और कैमरन बेनक्रौफ्ट जानते थें कि वे किस चीज का हिस्सा बन रहे हैं लेकिन वार्नर ने गेंद की हालत को बदलने के प्रयास की योजना तैयार की थी.

Tags: