भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां ने बीते दिनों अपने पति पर फिक्सिंग के गंभीर आरोप लगाए थे. उनके बीच चल रहे इस विवाद में मोहम्मद भाई का नाम बार-बार सामने आ रहा था. हसीन जहां ने मोहम्मद भाई नामक एक शख्स के साथ शमी के पैसों के लेन-देन को लेकर उनपर मैच फिक्सिंग करने का आरोप लगाया था. हालांकि शमी खुद इस बात से कई बार इनकार कर चुके हैं लेकिन अब मोहम्मद भाई ने खुद सामने आकर इन आरोपों को खारिज किया है.

एक हिन्दी चैनल से बात करते हुए खुद मोहम्मद हानस्लाट उर्फ मोहम्मद भाई ने बताया कि वह लंदन में अपना बिजनेस चलाते हैं. उनका कहना है कि वह मोहम्मद शमी और हसीन जहां से लंदन में मिल चुके हैं. एक मैच के दौरान उनकी मुलाकात हुई थी और धीरे-धीरे उनकी दोस्ती होती चली गई. हसीन जहां उन्हें भाई कहती थीं. वह हसीन को लंदन घुमाते थे. साथ ही मोहम्मद भाई का ये भी कहना है कि शमी पर लगा मैच फिक्सिंग का आरोप गलत है. उन्होंने कभी शमी को पैसे नहीं दिए हैं.

शमी और हसीन जहां के पूरे घटनाक्रम में पाकिस्तानी लड़की अलिश्बा का नाम भी कई बार सामने आया. हसीन जहां से आरोप लगाया था कि अलिश्बा, शमी और मोहम्मद भाई के बीच आपस में संबंध रहे हैं. शमी ने अलिश्बा के जरिए मोहम्मद भाई से पैसे लिए हैं. हालांकि मोहम्मद भाई ने इन आरोपों से इनकार किया. उन्होंने कहा कि वह अलिश्बा को जानते भी नहीं हैं. उन्होंने पाकिस्तानी लड़की अलिश्बा का नाम पहली बार सुना है.

हालांकि इससे पहले अलिश्बा ने भी एक चैनल से बात करते हुए कहा था कि उनकी शमी से बतौर फैन पहली मुलाकात देर रात एयरपोर्ट पर हुई थी. अगली सुबह वह शमी से मिलने उनके होटल में गईं, जहां उन्होंने शमी के साथ तकरीबन एक घंटे का वक्त बिताया. इस दौरान उन्होंने शमी के साथ नाश्ता किया. अलिश्बा का कहना है कि उनकी बहन शारजाह में रहती हैं, ऐसे में उनका दुबई अना-जाना लगा रहता है. पाकिस्तानी मॉडल के अनुसार, मुलाकात के दौरान पैसों को लेकर किसी भी तरह की बातचीत नहीं हुई थी.

मोहम्मद भाई का कहना है कि जांच एजेंसियों को मदद करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं. उन्होंने कहा, ‘मैं किसी भी तरह की जांच के लिए तैयार हूं. चाहे वह लाई डिटेक्टर टेस्ट हो या फिर नार्को वह इसके लिए तैयार हैं. अगर जांच एजेंसियां इसके लिए लंदन आना चाहें तो वह खुद उन्हें रिसीव करने एयरपोर्ट जाएंगे.’

बता दें कि मोहम्मद भाई को लेकर हसीन जहां के आरोप भी लगातार बदलते रहे हैं. हसीन ने पहली बार उन्हें एक अच्छा इंसान बताया था. वहीं दूसरी बार हसीन ने उन्हें मैच फिक्सिंग में लिप्त करार दिया था.

Tags: