सरिता विशेष

फुटबॉल या सॉकर दुनिया के बेहद लोकप्रिय खेलों में से एक है. जिस तरह क्रिकेट के लिए लोग दीवाने हैं उसी तरह दुनिया भर में सॉकर के दीवाने हैं. आलम ये है कई दफा सॉकर के मैच के दौरान दर्शकों के बीच के झगड़े के कारण कई लोगों की जानें भी गई हैं.

आइए जानते हैं फुटबॉल से ही जुड़ी कुछ रोचक बातें-

1. चीन की देन है फुटबॉल

सबसे पहले चीन के बाशिंदों ने फुटबॉल खेलना शुरु किया. चीन में ‘कुजू’ नामक खेल फुटबॉल से काफी मिलता-जुलता है. इसे तीसरे ईसा पूर्व से दूसरे ईसा पूर्व के बीच खेला जाता था.

2. दुनिया में सबसे लोकप्रिय

भारत में क्रिकेट की दीवानगी और इससे दूसरे खेलों की धुंधली होती छवि किसी से नहीं छिपी है. पर हैरान करने वाली बात ये है कि दुनिया में फुटबॉल ही सबसे ज्यादा खेला और देखा जाता है. फुटबॉल वर्ल्ड कप को 1 बीलियन से भी ज्यादा लोग टीवी पर देखते हैं.

3. सबसे बड़ा फुटबॉल टूर्नामेंट

1999 में दुनिया का सबसे बड़ा फुटबॉल टूर्नामेंट आयोजित किया गया. दुनिया के सबसे बड़ा फूटबॉल टूर्नामेंट बैंकॉक लीग सेवन-अ-साइड कंपीटिशन में 5,098 टीमों ने हिस्सा लिया था. इस टूर्नामेंट में 35,000 खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया था. आयोजकों की दाद देनी पड़ेगी.

4. किसी खिलाड़ी द्वारा एक मैच में सबसे ज्यादा गोल

फुटबॉल का कोई भी मैच बहुत ही दिलचस्प होता है. कई बार तो पूरे मैच में कोई भी खिलाड़ी गोल नहीं कर पाता और कई बार एक ही मैच में गोल की बरसात हो जाती है. एक ही मैच में सबसे ज्यादा गोल करने का रिकॉर्ड फ्रांस के स्टीफन स्टेनिस के नाम दर्ज है. स्टीफन ने यह कारनामा दिसंबर 1942 में कर दिखाया था. उस वक्त वे रेसिंग क्लब दे लेन्स के तरफ से खेल रहे थे.

5. सबसे तेज गोल

उरुग्वे के रिकार्डो औलीवेरा ने दिसंबर 1998 में सबसे तेज गोल किया था. वीडिया कैमरा की मदद से दर्ज किए गए इस रिकॉर्ड के अनुसार, औलीवर ने सिर्फ 2.8 सेकेंड में गोल दाग दिया था.

6. पहला फुटबॉल क्लब

फुटबॉल क्लब्स की पूरी दुनिया में धाक है. पर क्या आप विश्व के पहले फुटबॉल क्लब के बारे में जानते हैं? इंग्लिश शैफ्फील्ड फुटबॉल क्लब दुनिया का पहला फुटबॉल क्लब है. इसे 1857 में कर्नल नथानियल क्रेसविक और मेजर विलियम प्रिस्ट ने शुरु किया था.

7. सबसे ज्यादा गोल

सरिता विशेष

एक फुटबॉल मैच में कितने गोल किए जा सकते हैं. आप कहेंगे 20,30,50 या फिर ज्यादा से ज्यादा 60. पर फुटबॉल में सबसे ज्यादा 149 गोल बनाने का रिकॉर्ड है. मैडागास्कर की फुटबॉल टीम स्टेड ओलंपिक दे लेमिरने ने यह कारनामा कर दिखाया था. कहा जाता है कि इस टीम ने पिछले मैच में रेफ्री के गलत निर्णय से तैश में आकर यह काम किया था, और अपने ही गोल में 149 गोल दागे थे.

8. दुनिया के पहले अश्वेत खिलाड़ी

दुनिया आज भी रंगभेद और नस्लभेद से ग्रसित है और पहले भी थी. पर पहले श्याम वर्ण वालों की स्थिति अधिक दयनीय थी. उन्हें कई तरह के अधिकारों से वंचित रखा गया था. इन्हीं में से एक था खेलों का अधिकार. गोरों ने खेलों पर भी आधिपत्य जमा रखा था.

आर्थर वॉर्थन विश्व के पहले अश्वेत फुटबॉल खिलाड़ी हैं.

9. भड़क उठे थे दंगे

फुटबॉल पर लोग इतना जान छिड़कते हैं कि मरने मारने को भी तैयार हो जाते हैं. इतिहास में ऐसे कई अप्रिय घटनाएं दर्ज हैं. पर सबसे ज्यादा दर्दनाक घटना 1964 में घटी थी. 1964 में एक फुटबॉल मैच के दौरान एक रेफ्री के निर्णय के कारण परु में दंगे भड़क उठे थे. इन दंगों में 300 से भी ज्यादा लोगों की जान गई थी.

10. पाकिस्तान में बनते हैं फुटबॉल

फुटबॉल गाय की चमड़ी से बनती है. कुछ लोग मानते हैं की ये सुअर की चमड़ी से बनाया जाता है. पर फुटबॉल में इस्तेमाल होने वाले गेंद को गाय की चमड़ी की पहली परत से बनाया जाता है. गौरतलब है कि दुनिया के 80 प्रतिशत फुटबॉल पाकिस्तान में बनाए जाते हैं.