सरिता विशेष

बौलीवुड के दिग्गज एक्टर, प्रोड्यूसर और राजनेता धर्मेंद्र का जन्म 8 दिसंबर 1935 को पंजाब के लुधियाना जिले के नसराली गांव में एक पंजाबी परिवार में हुआ था.

उनके पिता का नाम केवल किशन सिंह देओल और माता का नाम सतवंत कौर था. उनके पुर्खों के गांव का नाम दगांव है जो लुधियाना के नजदीक पखोवल में स्थित है.

धर्मेंद्र ने अपनी जिंदगी के शुरुआती साल सहनेवाल गांव में बिताए थे. उन्होंने लुधियाना के लालटन कलां गांव के सरकारी वरिष्ठ माध्यमिक विद्दालय से पढ़ाई की थी, जहां उनके पिता हेडमास्टर के तौर पर काम करते थे. इस साल धर्मेंद्र अपना 82वां जन्मदिन मना रहे हैं.

धर्मेंद्र इस उम्र में भी पूरी तरह से फिट और जिंदादिल हैं, वे ‘यमला पगला दीवाना-3’ की शूटिंग कर रहे हैं और मौका मिलने पर बौलीवुड की धज्जियां उड़ाने से भी बाज नहीं आते हैं.

धर्मेंद्र और हेमा मालिनी की लव स्टोरी बौलीवुड के गलियारों में काफी फेमस रही है. हेमा को लेकर उनकी दीवानगी का आलम सातवें आसमान पर था. बौलीवुड के हैंडसम हंक कहे जाने वाले धर्मेंद्र किसी भी कीमत पर उन्हें हासिल करना चाहते थे और शूटिंग के दौरान भी वे उनसे करीबी बढ़ाने के मौके तलाश ही लेते थे. ‘शोले’ की शूटिंग के दौरान धर्मेंद्र अपने रुतबे का इस्तेमाल करके, हेमा मालिनी के साथ बार—बार शौर्ट रिपीट करते थे.

‘शोले’ की शूटिंग चल रही थी, धर्मेंद्र और हेमा मालिनी के बीच रोमांटिक सीन फिल्माया जाना था. धर्मेंद्र ने इसका फायदा उठाने का फैसला लिया और उन्होंने लाइट्सबौय को पटा लिया. ताकि सीन के दौरान वे हेमा मालिनी को बार-बार अपनी बाहों में ले सकें.

धर्मेंद्र ने लाइट्स बौय के साथ एक कोड लैंग्वेज डेवलप कर ली थी. जब वे अपना कान खींचते तो इसका मतलब होता कि लाइट्सबौय को कोई गलती करनी है. या तो वे ट्रौली को अटका देते या फिर रिफ्लेक्टर गिरा देते. अगर वे अपना नाक छूते तो इसका मतलब है कि शौर्ट को ओके कर दिया जाए. धर्मेंद्र हर रीटेक का 100 रु. दिया करते थे. कई-कई दिन तो लाइट्सबौय की लौटरी खुल जाती और वे 2,000 रु. तक बना ले जाते थे. इसे ही तो कहते हैं दीवानगी.

धर्मेंद्र को फिल्मों में उनके किरदार की वजह से एक्शन किंग और ही-मैन जैसा नाम दिया गया. करियर के शुरुआत में उन्होंने फिल्मफेयर मैग्जीन का न्यू टैलैंट अवौर्ड जीता था और उसके बाद काम की तलाश में पंजाब से मुंबई आ गए थे. उन्होंने अर्जुन हिंगोरानी की फिल्म दिल भी तेरा हम भी तेरा के जरिए बौलीवुड में डेब्यू किया था. आज उनके जन्मदिन पर हम आपको बताते हैं उनसे जुड़े कुछ दिलचस्प तथ्य जिनके बारे में कम ही लोग जानते हैं.

  • धर्मेंद्र बचपन से ही एक्टर बनने का सपना देखते थे, मां की एक सलाह ने उनकी जिंदगी बदल दी थी. उनकी मां ने ही उन्हें फिल्मफेयर मैग्जीन को पत्र लिखकर अपनी तस्वीरें भेजने के लिए कहा था.
  • फिल्मों में काम करने से पहले धर्मेंद्र रेलवे में क्लर्क की नौकरी किया करते थे, जहां उन्हें सवा सौ रुपए सैलरी मिला करती थी.
  • केवल 19 साल की उम्र में साल 1954 में धर्मेंद्र की शादी प्रकाश कौर के साथ हुई थी. इसके बाद उन्हें अपनी को-स्टार हेमा मालिनी में प्यार हुआ और दोनों ने 1980 में इस्लाम धर्म अपनाकर शादी कर ली थी.
  • 1991 में आई सनी देओल की फिल्म घायल को धर्मेंद्र ने प्रोड्यूस किया था. इसके लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ फिल्म का फिल्मफेयर अवौर्ड भी मिला था.
  • साल 2012 में सिनेमा में अपना महत्वपूर्ण योगदान देने के लिए भारत सरकार ने धर्मेंद्र को पद्मभूषण से नवाजा था.
  • भारतीय जनता पार्टी की तरफ से धर्मेंद्र ने 14वीं लोकसभा का चुनाव लड़े और जीते थे. वे राजस्थान की बीकानेर से साल 2005-2009 तक सासंद रहे चुके हैं.