सरिता विशेष

बौलीवुड में सफलता बहुत मायने रखती है. यहां पर असफलता का दंश इंसान को लंबे समय तक भुगतना पड़ता है. यही वजह है कि 2010 में सोनम कपूर को लेकर ‘‘आएशा’’ जैसी असफल फिल्म निर्देशित कर चुकी फिल्मकार राजश्री ओझा अब तक इस असफलता का फल भोग रही हैं. उसके बाद से उनकी फिल्में नही आयी. बड़ी मुश्किलों से अब कश्मीर की पृष्ठभूमि पर विवादास्पद कश्मीरी लड़कियों के रॉक बैंड ‘प्रगास’ पर आधारित फिल्म का निर्माण व निर्देशन करने का फैसला किया है. यह कश्मीर का ऐसा बैंड है, जिसमें सभी लड़कियां हैं. कश्मीर में इस बैंड की शुरुआत नोमा नजीर भट्ट, फरहा दीबा और अनीका खालिद ने की. मगर  इस फिल्म को लेकर भी उनकी मुसीबतें खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही हैं.

लड़कियों के बैंड पर आधारित इस फिल्म में राजश्री ओझा ने कश्मीरी रॉक गायिका नोमा नजीर भट्ट के किरदार को निभाने के लिए आलिया भट्ट से बात की थी. पहले तो आलिया भट्ट यह फिल्म करने को तैयार थी, मगर अब आलिया भट्ट ने इस फिल्म से खुद को अलग कर लिया है.

आलिया भट्ट के मना करने पर राजश्री ओझा ने नोमा नजीर के किरदार को निभाने के लिए ‘मिर्जिया’ फेम अदाकारा सैयामी खेर को अनुबंधित किया है. मगर सैयामी खेर के इस फिल्म से जुड़ने के बाद फिल्म में पुलिस अफसर का किरदार निभाने के लिए हामी भर चुके अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दिकी ने खुद को इस फिल्म से अलग कर लिया. तो अब राजश्री ओझा ने उसी किरदार को निभाने के लिए राज कुमार राव को अनुबंधित किया. मगर अभी तक राज कुमार राव इस बात की पुष्टि नहीं कर रहे हैं.

वैसे राजश्री ओझा ने अपनी इस फिल्म में आशिया अंदराबी से प्रेरित किरदार को निभाने के लिए शबाना आजमी को जोड़ा है. ज्ञातब्य है कि आशिया अदराबी पाकिस्तानी समर्थक ‘‘दुखतरन ए मिलात’’ की संस्थापक सदस्य हैं.

अभी तक फिल्मकार राजश्री ओझा को इस फिल्म में फरहा तथा गिटारिस्ट अनिका का किरदार निभाने के लिए कोई अभिनेत्री नहीं मिली है. 

‘प्रगास’ बैंड क्या है?

कश्मीरी लड़कियों का ‘‘प्रगास’’ बैंड 2012 में उस वक्त चर्चा में आया था, जब इस बैंड ने तमाम बैंडों के बीच प्रतियोगिता करते हुए श्रीनगर में लाइव परफार्म किया था. इस बैंड की लाइव परफार्मेंस खत्म होने के तुरंत बाद इस बैंड के सभी सदस्यों को सोशल मीडिया और उनके मोबाइल फोन पर जान से मार देने की धमकियां मिलनी शुरू हो गयी थी. यहां तक कि 2013 में इस बैंड के खिलाफ फतवा तक जारी हो गया था. उसके बाद इस बैंड को सोशल मीडिया पर भारी समर्थन भी मिला था, लेकिन इस बैंड को खत्म करने के लिए मजबूर किया गया.