घूमने फिरने और प्राकृतिक सुंदरता का आनंद उठाने के लिहाज से नैनीताल हमेशा से ही पर्यटकों की पहली पसंद रहा है. ऊंचे पहाड़ों के साथ ही नैनीताल में कई झीलें भी हैं और इसलिए उसे झीलों का शहर भी कहा जाता है. उत्तराखंड राज्य की राजधानी देहरादून से नजदीक होने के कारण इस जगह का काफी शहरीकरण हो चुका है. सैलानियों का जमघट नैनीताल को कभी शोरगुल से आजाद नहीं होने देता.

झीलों के इस शहर को पूरा घूमने के लिए मात्र 3 घंटे का समय ही काफी है. इस के लिए 300-500 रुपए में एक किराए की गाड़ी बुक कर के नैनीताल के प्रमुख पर्यटक स्थलों पर जाया जा सकता है, जिन में टिफिन टौप, केव गार्डन, स्नो व्यू, तिब्बती मार्केट, माल रोड और चाइना पीक मुख्य हैं. यदि शौपिंग का मूड है तो नैनीताल का माल रोड, तिब्बत बाजार और बड़ा बाजार, उचित स्थान हैं. यहां से लकड़ी के बने सजावटी सामान सस्ते दामों में खरीदे जा सकते हैं, साथ ही खूबसूरत मोमबत्तियां भी यहां वाजिब दामों में मिल जाएंगी. खानेपीने के लिए भी ये तीनों स्थान काफी अच्छे हैं. उत्तराखंड की प्रमुख बाल मिठाई भी नैनीताल के बड़ा बाजार से आसानी से खरीदी जा सकती है.

भव्य राज भवन

शौपिंग और खानपान के बाद यदि कुछ अलग देखने की ललक है और इतिहास में रुचि रखते हैं तो नैनीताल के राज भवन की ट्रिप मजेदार हो सकती है. वैसे तो इस शहर में अंगरेजी शैली की कई इमारतें हैं मगर विक्टोरियल गौथिक शैली में बने यहां के राज भवन की खूबसूरती की कोई मिसाल नहीं. वर्ष 1897 में गवर्नर एंथोनी पैट्रिक मैक्डोनल द्वारा बनवाई गई इस इमारत का ढांचा मुंबई के छत्रपति शिवाजी टर्मिनस का निर्माण करने वाले ब्रिटिश आर्किटैक्ट फैड्रिक विलियम स्टीवैंस ने तैयार किया था.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
COMMENT