आजकल हमारा ज्यादातर काम लैपटौप पर ही होता है. गर्मियों का मौसम आ चुका है और इस मौसम में लैपटौप ज्यादा ओवरहीट होता है. ज्यादा ओवरहीट होने के कारण लैपटौप खराब हो सकता है. अगर आपके लैपटौप के साथ भी इस तरह की समस्या आ रही है तो कुछ बातों को ध्यान में रखकर आप लैपटौप को ओवर हीटिंग से बचा सकते हैं.

  • कभी भी इलेक्ट्रानिक डिवाइसेज को पोंछने के लिए गीले कपड़े का प्रयोग न करें. यदि लैपटौप का सीपीयू फैन काम नहीं कर रहा है, तो ध्यान रखें की उसको अधिक समय तक प्रयोग न करें. यदि आप ऐसा करते हैं, तो उसमें ओवर हीटिंग की समस्या आ सकती है.
  • आमतौर पर कई लैपटौप यूजर कूलिंग किट का प्रयोग कर सकते हैं. यदि लैपटौप पुराना हो गया है, तो ज्यादा देर तक प्रयोग करने पर उसमें कूलिंग की समस्या आ ही जाती है. ऐसे में अतिरिक्त कूलिंग किट बेहतर विकल्प है. यदि कूलिंग किट के बाद भी बैटरी गर्म हो रही है, तो बैटरी बदल दें.
  • लैपटौप में बार-बार चार्जर लगाने से भी ओवर हीटिंग की समस्या हो जाती है.
  • अधिकतर लैपटौप कूलिंग के लिए नीचे से एयर लेते हैं. ऐसे में यदि आप लैपटौप को किसी तकिए या कंबल पर रखते हैं, तो लैपटौप में सही तरीके से एयर वेंटिलेशन नहीं हो पाता है. लैपटौप को किसी फ्लैट सरफेस पर रखा जाए, तो उसके ओवर हीट होने की संभावना थोड़ी कम हो जाती है.
  • कूलिंग किट के स्थान पर कूलिंग मैट पर लैपटौप को रखकर काम करने से भी यह समस्या बहुत हद तक कम हो जाएगी.
  • बैटरी के पिनों या फैन में धूल जमने से लैपटौप के गर्म होने का खतरा रहता है. इसलिए एक-दो महीने में इनकी सफाई होती रहनी चाहिए. बैटरी को साफ करने के लिए पहले उसे लैपटौप से अलग कर लें. इसके बाद इसे कैन्नड एयर से ब्लो करें. ऐसा करने से इसके अंदर की धूल निकल आएगी. ध्यान रखें सीपीयू के फैन की सफाई के दौरान हवा का प्रेशर कम हो.
Tags:
COMMENT