कई बार ज्यादा इस्तेमाल करने के बाद आपका स्मार्टफोन हैंग करने लगता है. इससे बचने के लिए आप नया फोन खरीदते हैं पर कुछ समय बाद वो भी हैंग करने लगता है. ऐसे में आपको यह जानकारी होना जरूरी हे कि फोन हैंग करने के पीछे का कारण क्या है.

बिना जरूरत अपडेट करना

कई स्मार्टफोन कंपनियां अपने हैंडसेट के पुराने औपरेटिंग सिस्टम को अपडेट करने की सुविधा देती हैं. लेकिन औपरेटिंग सिस्टम अपडेट करने से स्मार्टफोन स्लो हो सकता है. इसकी वजह फोन में पुराने हार्डवेयर. कम स्पीड वाला प्रोसेसर और रैम हो सकती है. स्मार्टफोन में ऐप्स अपडेट करने में भी कई बार यह समस्या आती है.

एक साथ कई ऐप्स खोल कर रखना

जब आप स्मार्टफोन पर ऐप्स इस्तेमाल करने के बाद बैक करते हैं, तो ऐप्स बंद न होकर मिनीमाइज हो जाते हैं, पूरी तरह बंद नहीं होते और बैकग्राउंड में ओपन ही रहते हैं. ऐसा करते करते कई ऐप्स बैकग्राउंड में ओपन ही रह जाते हैं. इंटरनेट ऐक्सेस करने पर ये भी सक्रिय हो जाते हैं. इस वजह से फोन स्लो हो जाता है और कई बार हैंग भी हो जाता है.

कैशे डीलिट न करना

अगर आप फोन पर इंटरनेट का ज्यादा इस्तेमाल करते हैं तो इससे भी आपका फोन स्लो हो जाता है. इंटरनेट पर जब भी कुछ सर्च किया जाता है तो यह फोन की टेंपररी मेमोरी में सेव हो जाता है. जैसे जैसे डेटा बढ़ते जाता है, स्मार्टफोन स्लो होने लगता है.

थर्ड पार्टी ऐप्स इन्स्टाल करना

आप कई बार अपने स्मार्टफोन में ऐसे ऐप्स इन्स्टाल कर लेते हैं जो प्ले स्टोर पर भी नहीं होते. ऐसे ऐप्स से साफ्टवेयर के करप्ट होने का खतरा रहता है. इससे फोन भी हैंग होता है.

फोन औफ या रिस्टार्ट नहीं करना

बहुत से यूजर अपने स्मार्टफोन को कभी औफ या रिस्टार्ट नहीं करते. ऐसे में लगातार यूज करते रहने से स्मार्टफोन स्लो हो जाता है और हैंग होने लगता है.

सही चार्जर इस्तेमाल न करना

कई बार आप किसी भी चार्जर से फोन चार्ज कर लेते हैं. ऐसा करने से फोन की बैटरी पर असर पड़ता है.

बेमतलब के ऐप्स फोन में रखना

बहुत से यूजर्स अपने स्मार्टफोन में ऐसे ऐप्स रखते हैं जिनको वे कभी यूज नहीं करते. ऐसे फोन की इंटरनल मेमोरी का स्पेस कवर करते हैं और आपका फोन हैंग होने लगता है.

Tags:
COMMENT