पत्नी के उलाहनों से तंग आ कर आखिर कन्हैयालाल मल्टीप्लैक्स में फिल्म देखने के लिए तैयार हो गए. फिल्म कैसी रही, इस का तो कन्हैयालाल को ध्यान नहीं लेकिन उस के बाद जो कुछ हुआ उस ने उन के जीवन को एक नया व सुखद मोड़ दे दिया.
अनलिमिटेड कहानियां आर्टिकल पढ़ने के लिए आज ही सब्सक्राइब करेंSubscribe Now