मैं राजेश को जब भी देखती मेरे जेहन में ‘गुलाम’ फिल्म में आमिर खान का गेटअप घूम जाता था. वह बिलकुल उसी तरह बालों की स्टाइल, हाथों में कड़ा और गले में चेन डाल कर घूमता रहता था. वह मेरी पड़ोसिन की बूआ का बेटा था. मेरे परिवार के लोग राजेश को टपोरी समझते थे पर उसी टपोरी ने वह कर दिखाया था जिस के बारे में न तो मैं ने कभी सोचा था न मेरे परिवार में किसी को उम्मीद थी.

Tags:
COMMENT