29 अक्टूबर को मुंबई के ब्रेबोर्न स्टेडियम में शिखर धवन के आउट होते ही जब कप्तान विराट कोहली मैदान में उतरे तो सब को यही लग रहा था कि वे अपनी शानदार फौर्म के चलते लगातार चौथा शतक भी जड़ देंगे. पर ऐसा हो न पाया. लेकिन इस की भरपाई रोहित शर्मा और अंबाती रायुडू की उम्दा बल्लेबाजी ने पूरी कर दी और भारत ने वेस्टइंडीज को 224 रनों से हरा कर इस सीरीज में 2-1 की बढ़त बना ली.

इतना ही नहीं, भारतीय टीम ने वनडे में रनों के हिसाब से अपनी तीसरी सब से बड़ी जीत दर्ज की, जबकि वेस्टइंडीज के खिलाफ यह उस की सब से बड़ी जीत रही.

मुंबई के ब्रेबोर्न स्टेडियम में टौस जीत कर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने 5 विकेट पर 377 रन का विशाल स्कोर बनाया. इस में रोहित शर्मा के 162 और अंबाती रायुडू के 100 शानदार रन शामिल थे. रनों के इस पहाड़ से मेहमान वेस्टइंडीज टीम पर इतना ज्यादा दबाव पड़ा कि वह 36.2 ओवरों में  महज 153 रनों पर आलआउट हो गई.

भारत की इस जीत के हीरो रोहित शर्मा और अंबाती रायुडू रहे, जिन्होंने तीसरे विकेट के लिए 211 रन जोड़े और भारत के लिए 377 रनों का विशाल अंबार लगा दिया.

लक्ष्य का पीछा करने उतरी वेस्टइंडीज की पारी की शुरुआत से ही लड़खड़ाती चली गई. 77 रन तक पहुंचते पहुंचते मेहमान टीम ने अपने 7 कीमती विकेट गंवा दिए थे. वह तो भला हो कप्तान जेसन होल्डर का जिन्होंने पुछल्ले बल्लेबाजों के साथ मिल कर अपनी टीम के खाते में कुछ रन जोड़े और स्कोर को 150 के पार पहुंचाया.

इस सीरीज का दूसरा मैच टाई कराने और तीसरा मैच जीतने वाली वेस्टइंडीज टीम से उम्मीद थी कि उस के बल्लेबाज दोबारा उम्दा खेल दिखाएंगे पर उन की शुरुआत खराब रही और उस के 3 विकेट 20 के स्कोर तक गिर गए. बाद में कप्तान जेसन होल्डर ने अपनी टीम के लिए 54 रन की नाबाद पारी खेली जिस में 70 गेंदों पर 1 चौका और 2 छक्के लगाए.

रोहित और रायुडू के शानदार शतक

भारत की ओर से रोहित शर्मा ने ब्रेबौर्न स्टेडियम में अपने वनडे कैरियर का 21वां शतक जड़ा.

रोहित शर्मा और अंबाती रायुडू ने तीसरे विकेट के लिए 211 रन की साझेदारी की.

आउट होने से पहले रोहित शर्मा ने 137 गेंदों की अपनी पारी में 20 चौके और 4 छक्के जड़े.

अंबाती रायुडू ने 81 गेंदों पर 8 चौके और 2 छक्कों की मदद से 100 रन बनाए. उन्होंने वनडे कैरियर का तीसरा शतक 80 गेंदों पर पूरा किया.

रोहित शर्मा ने एक ही मैच में 150 से ज्यादा रन ठोंकने के अलावा 3 कैच पकड़ने का अनोखा रिकौर्ड बनाया. ऐसा करने वाले वे पहले बल्लेबाज बन गए हैं.

रोहित शर्मा ने भारत की तरफ से वनडे क्रिकेट में सब से ज्यादा छक्के लगाने के मामले में सचिन तेंदुलकर को पीछे छोड़ दिया. सचिन ने 195 छक्के मारे थे पर रोहित अब उन से आगे हो गए हैं. अब उन के नाम 198 छक्के हैं. भारत की ओर से महेंद्र सिंह धौनी ने 331 मैचों में 218 छक्के लगाए हैं.

रोहित शर्मा को उन की बेहतरीन बल्लेबाजी और भारत को जीत दिलाने के लिए ‘मैन औफ द मैच’ का खिताब दिया गया.

रोहित शिखर की उपलब्धि

रोहित शर्मा और शिखर धवन की सलामी जोड़ी ने अपने नाम एक और उपलब्धि जोड़ी. वे भारत की दूसरी सब से कामयाब सलामी जोड़ी बन गए और दुनिया में वे चौथे नंबर पर आ गए हैं. उन्होंने सचिन तेंदुलकर और वीरेंदर सहवाग की जोड़ी को पीछे छोड़ा. सहवाग और सचिन ने 2002-2012 के बीच 93 वनडे इंटरनैशनल पारियों में 42.13 की औसत से 3919 रन बनाए थे. उन के बीच 12 शतकीय और 18 अर्धशतकीय साझेदारियां हुई थीं.

वैसे, वनडे मैचों में सब से कामयाब जोड़ी का रिकौर्ड भी भारतीय जोड़ी के नाम है. सचिन तेंदुलकर और सौरभ गांगुली की जोड़ी ने 136 वनडे मैचों में 6609 रन जोड़े थे. इस जोड़ी ने 21 शतकीय और 23 अर्धशतकीय पार्टनरशिप की थीं.

Tags:
COMMENT