अनेक शहरों से कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की आत्महत्या की खबरें आ रही हैं. मगर ‘विश्व आत्महत्या प्रतिरोध दिवस‘ अर्थात 10 सितंबर, 2020 को छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले से जब यह खबर आई कि एक कोरोना मरीज ने आत्महत्या कर ली तो छत्तीसगढ़ में हड़कंप मच गया.

यह समाचार सुर्खियां तो बना, मगर सरकार को जिस संवेदना के साथ इस मसले को लेना चाहिए, वैसे हालात नहीं दिखे.

Tags:
COMMENT