देश दुनिया में कहानियों को ऑडियो वर्जन में सुनने की एक परंपरा काफी समय से रही है, लेकिन भारत में अभी इसकी शुरुआत है. कहानियां तो यहां खूब पढ़ी जाती हैं, लेकिन जब ऑडियो फॉर्मेट में इन्हें बाजार में उतार जाता है तो लोगों को शायद पता नहीं चल पाता, इसलिये दिलचस्पी कम दिखती है.

COMMENT