पढ़ेलिखे और सम झदार लोगों को किन्नर, हिजड़े जैसे शब्द अब चुभते हैं. कानून भी अब इन्हें ट्रांसजैंडर मानता है. हर तरह के कानूनी अधिकार इन्हें प्राप्त हैं. अब ये हवाईजहाज से सफर करते हैं. सभ्य समाज के साथ कदम से कदम मिला कर चलने का प्रयास करते हैं. सरकार की तमाम योजनाओं के प्रचारप्रसार में अपना योगदान देते हैं. इन का व्यवहार भी अब पहले जैसा नहीं रहा.

Tags:
COMMENT