पिछले साल सितंबर महीने की बात है. एक शख्स राजस्थान पुलिस के स्पैशल औपरेशन ग्रुप यानी एसओजी के थाने में पहुंचा. आंखों पर चश्मा लगाए अच्छी कदकाठी के उस व्यक्ति ने बताया कि उस का नाम संदीप घोष है और वह अजमेर का रहने वाला है. वह पश्चिम बंगाल की पिनकौन स्पिरिट समूह की कंपनी में काम करता है. पिनकौन समूह की कंपनियां विभिन्न योजनाओं में लोगों से निवेश कराती हैं.

Tags:
COMMENT