उत्तर प्रदेश के जनपद संत कबीर नगर के खलीलाबाद कोतवाली इलाके की रहने वाली चंचल की हत्या उस के ही बाप विजय कुमार ने इसलिए कर दी, क्योंकि वह अपने बाप से स्कूल की 800 रुपए फीस जमा करने की जिद कर बैठी. पिता को बेटी की यह बात नागवार लगी और उस ने गुस्से में आ कर बेटी का गला दबा दिया.

चंचल मौके पर बेहोश हो कर जमीन पर गिर पड़ी. इस के बाद विजय कुमार ने बस्ती जनपद में अपनी ससुराल चित्राखोर में अपने साले अमरनाथ पांडेय को फोन कर के इस वारदात की जानकारी दी.

अमरनाथ अपने ड्राइवर गोपाल और बहनोई रविचंद्र को ले कर विजय के घर पहुंचा और वहां बेहोश पड़ी चंचल उर्फ कालिंदी को 30 नवंबर, 2018 की रात तकरीबन 10 बजे बोरे में भर कर उसे बस्ती जिले के लालगंज थाना क्षेत्र में ले गया और कुआनों नदी पर बने बानपुर पुल से नीचे फेंक दिया.

इस वारदात के दूसरे दिन 1 दिसंबर, 2018 की सुबह जब गांव वालों ने एक लड़की की लाश को नदी में तैरते देखा तो उन्होंने इस की सूचना पुलिस को दी.

मौके पर पहुंची पुलिस ने लाश को नदी से निकलवा कर शिनाख्त कराने की कोशिश की, लेकिन शिनाख्त नहीं हो सकी.

लालगंज के थाना प्रभारी राजेश मिश्र ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर जब तफतीश शुरू की तो चित्राखोर से चंचल की शिनाख्त हो गई.

पुलिस के लिए केस कुछ आसान होता दिखा और उस ने तफतीश की सूई चंचल के परिवार पर फोकस कर के जांच शुरू की तो बाप विजय कुमार पर शक हुआ.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT