महिलाओं को आए दिन छेड़छाड़ जैसी समस्याओं को सामना करना पड़ता है, आखिर क्यों? अगर कोई पुरुष किसी महिला को पसंद करने लगता है तो ये उसकी गलती है, न कि उस महिला की. उसने तो किसी पुरुष को नहीं कहा कि वो उसे चाहने लगे. इन एक तरफ़ा प्रमियों की दिक्कत ये होती है कि ये अपनी दिल की बात उस लड़की से कहने में डरते हैं जिसे वो चाहने लगते हैं.

ज़ाहिर सी बात है आप जिसे चाहते हैं, तो उसे अपने दिल की बात बता दें. अगर वो लड़की भी आपको पसंद करती होगी तो वो आपको अपना लेगी. अगर नहीं, तो वो आपको मना कर देगी. जिस प्रकार चुनने का अधिकार आपको है, वैसे  उस लड़की को भी है. पर कुछ लोग इतने ‘कूड़ दिमाग’ होते हैं कि अगर लड़की उनकी न हो सकी, तो वे उसे किसी और की भी नहीं होने देते.

ज़रा सोचिए जैसी हरकतें आप दूसरी लड़कियों के साथ करते हैं, अगर उसी तरह की हरकतें कोई आपकी बहन या दोस्त से करे तो आपको कैसा लगेगा?

ये ‘शॉर्ट फ़िल्म’ बताती है कि बहुत से लोग प्यार का सही अर्थ नहीं समझ पाते. और अपने प्यार को नहीं पाने के चलते वो किसी भी हद तक गिर सकते हैं, यहां तक कि वो उस लड़की ज़िंदगी भी तबाह कर सकते हैं. ऐसी घटिया मानसिकता रखने वालों को इस बारे में थोड़ा सोचना चाहिए, अगर उनके पास रत्ती भर दिमाग है तो!

आप भी देखिए 4 मिनट की ये शॉर्ट फिल्म…

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

डिजिटल

(1 साल)
USD10
सब्सक्राइब करें

डिजिटल + 24 प्रिंट मैगजीन

(1 साल)
USD79
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...