अधिकतर भारतीय जानते ही नहीं कि संस्कृति है क्या. जिसे वे अपनी संस्कृति बता रहे हैं, क्या वह उन की है? पश्चिम की नग्नता क्या उन की संस्कृति थी? आज है, तो यही दर्शाता है कि उन्होंने अपनी जनता को कूपमंडूकता से बाहर निकाला है, जो भारतीयों को आज भी नसीब नहीं हुआ, तभी तो पश्चिम की संस्कृति को अपसंस्कृति नाम देते हैं.

Tags:
COMMENT