देशभक्ति को हिंदूधर्मभक्ति का रूप देने की कोशिश में भाजपा के एक सक्रिय गुट ने हालात ऐसे बना दिए हैं कि कोई भी जरा सी बात, जो इन के खोखले विचारों की पोल खोलती हो, नहीं कह सकता है, अगर किसी ने कह दी तो गुट वाले बवाल मचा देते हैं. यह हर धर्म की मूल चाल है कि किसी को भी धर्म की खामी निकालने ही न दो. इसी तरह अब देश, हिंदू, आज के शासकों पर कुछ न कहो.

Digital Plans
Print + Digital Plans
Tags:
COMMENT