15अक्तूबर, 2018 की दोपहर के करीब ढाई बजे मुंबई के मार्गों और बाजारों में अच्छीभली भीड़ थी. उसी वक्त मुंबई के अंधेरी इलाके के मिल्लत नगर से एक ओला कैब निकली, जिस में एक युवक बैठा था. 19-20 साल का वह युवक घबराया हुआ सा लग रहा था. उस ने कैब सांताक्रुज एयरपोर्ट के लिए बुक कराई थी, लेकिन वहां जाने के बजाय वह जोगेश्वरी, गोरेगांव और मलाड की सड़कों पर घूमता रहा. आखिर में उस ने मलाड के ‘माइंडस्पेस’ के सामने कैब रुकवाई.

Tags:
COMMENT