कहर पे कहर, एक तरफ पूरी दुनिया में कोविड 19 अपने पैर पसार चुका है और मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है. लोग घरों में रहने को मजबूर हैं. वहीं भूकंप से बारबार धरती हिल रही है, भले ही झटके तेज न हों, पर लोगों के दिल जरूर दहला रही है. उधर आसमान में उड़ रही लाखों टिड्डियों के फसलों पर बैठ जाने के चलते बरबाद हो रही खेती से किसानों की कमर टूट रही है.

Tags:
COMMENT