मोदी सरकार की नई शिक्षा नीति के तहत हिंदी को पूरे देश में अनिवार्य बनाने की नीयत से त्रिभाषा फार्मूले का नया ड्राफ्ट जैसे ही सामने आया, देशभर में इस का विरोध शुरू हो गया. आखिरकार मोदी सरकार को यूटर्न लेना पड़ा.

सत्ता में वापसी से अतिउत्साहित मोदी सरकार ने हिंदू राष्ट्र स्थापित करने की दिशा में तेजी से कदम बढ़ाते हुए पहला फरमान जारी किया- हिंदी अब पूरे मुल्क में पढ़ीपढ़ाई जाएगी. यह अनिवार्य भाषा होगी. इस के अलावा दूसरी भाषा इंग्लिश और तीसरी भाषा क्षेत्रीय होगी. देश में ‘त्रिभाषा फार्मूला’ लागू होगा.

Tags:
COMMENT