पिछले दिनों बिहार के सिवान की जदयू विधयक कविता देवी ने यह फरमान जारी कर दिया कि लड़कियों को सभ्यता और संस्कृति के हिसाब से ही कपड़े पहनने चाहिए. सिसवां कला पंचायत ने लड़कियों के छोटे कपड़े पहनने और मोबाइल फोन रखने पर पाबंदी लगा दी है. इतना ही नहीं पंचायत का आदेश नहीं मानने वाली लड़कियों के मां-बाप से जुर्मानो के तौर पर 5 हजार रूपए वसूलने का फरमान भी जारी किया गया है. विधायक अपने ऊल-जलूल फैसले को जायज ठहराते हुए कहा कि लड़कियों को खुद ही समझना चाहिए कि वे भड़काऊ कपड़े न पहनें. इससे लड़कों और मर्दो की नीयत खराब होती है.

COMMENT