सवाल

मैं 28 वर्षीय विधवा हूं. मेरे पति वायुसेना में थे. वायुसेना विभाग द्वारा मुझे कोई नौकरी नहीं दी गई. मेरी एक लड़की है जिस की परवरिश का मेरे पति ने पहले ही इंतजाम कर दिया था. सो, वह मुझ पर बोझ नहीं है. पति के न रहने पर ससुराल वालों ने बहुत बुरा व्यवहार किया. इस कारण मैं अकेली रहने लगी हूं. मैं बीए, बीएड हूं और एक प्राइवेट संस्था में कार्य करती हूं. अब मैं इंटरनैट पर वैडिंग वैबसाइट पर वैवाहिक विज्ञापनों के माध्यम से फिर शादी करना चाहती हूं. लेकिन डर लगता है कि कहीं गलती न हो जाए.

ये भी पढ़ें- मैं 28 वर्षीया विधवा हूं, डेढ़ वर्ष पहले मेरे पति की मृत्यु हो गई थी…

जवाब

सुशिक्षित व कामकाजी महिला होने के नाते आप को लोगों को भलीभांति समझने का पर्याप्त अनुभव होगा. इसलिए अपने मन से डर निकाल कर जीवन को खुशहाल बनाएं. विज्ञापन के माध्यम से जीवनसाथी ढूंढ़ने में आप को संकोच नहीं करना चाहिए. शादी आपसी सहयोग, सद्भाव, समान रुचियों और दृष्टिकोणों पर निर्भर करती है. सो, शादी तय करने से पहले जीवनसाथी व उस के परिवार की सभी बातों की भलीभांति जांचपड़ताल कर लीजिए. इस से आप की सभी शंकाओं का समाधान हो जाएगा. यह काम आप के परिवार के किसी बुजुर्ग को ही करना चाहिए. आप स्वयं करेंगी तो कठिनाई हो सकती है.

ये भी पढ़ें- कई बार तो ऐसा लगता है जैसे मेरा माइंड रेस्ट मोड में जा रहा है…

Tags:
COMMENT