सवाल

मैं 42 वर्षीय पुरुष हूं. मेरी पत्नी का देहांत हो चुका है, बच्चे स्कूल में पढ़ते हैं. मैं प्राइवेट जौब करता हूं. व्यस्त रहता हूं. मैं 6 महीने से एक महिला के साथ रिलेशनशिप में हूं. वह तलाकशुदा है. हम दोनों की आपसी सहमति है कि हम शादी नहीं करेंगे. वह मुझ से 5 वर्ष बड़ी है और उस के बच्चे भी बड़े हैं. उस की मुझ से हमेशा यही शिकायत रहती है कि मैं उस से मिलता नहीं, समय नहीं देता, फोन नहीं करता, मैसेज नहीं करता और उस से प्यार नहीं करता. मैं उसे बहुत पसंद करता हूं, यह कैसे यकीन दिलाऊं?

ये भी पढ़ें- मेरी पत्नी मेरे भाई को अपना बेटा समझ मां समान प्यार देती है और वह मुझसे ज्यादा उसके साथ रहती है, मैं क्या करूं?

जवाब

आप की परेशानी का हल आप के प्रश्न में ही निहित है. आप की गर्लफ्रैंड की यह शिकायत तो तभी दूर होगी जब आप उन की इच्छाएं पूरी करेंगे और तभी उन्हें यकीन भी होगा कि आखिर वे आप के जीवन में क्या माने रखती हैं. आप को अपने व्यस्त जीवन में से कुछ क्षण तो उन के लिए निकालने ही होंगे. बिना कोई एफर्ट किए आप उन से यह उम्मीद नहीं लगा सकते कि वे खुदबखुद आप के प्यार को समझ जाएं. आप जब भी फ्री हों, 2-4 मिनट के लिए ही सही, उन्हें फोन कर लिया करें. घर आ कर उन से मैसेज कर उन का दिन कैसा बीता, आप के साथ दिनभर में क्याक्या हुआ, उन्होंने खाना खाया या नहीं, पूछ लिया करें. ये छोटीछोटी बातें ही तो बड़ीबड़ी परेशानियों का हल होती हैं. आप के औफिस की छुट्टी हुआ करे तो एक रविवार अपने बच्चों के साथ तो दूसरा अपनी गर्लफ्रैंड के साथ व्यतीत कर लीजिए. जब तक आप उन्हें खुद यकीन नहीं दिलाएंगे, खुद अपनी चाहत का इजहार नहीं करेंगे, एफर्ट नहीं करेंगे तो वे कुछ नहीं समझ पाएंगी.

ये भी पढ़ें- मेरी बहू का दोस्त हमेशा घर आता रहता है, पड़ोस के लोग बातें बनाने लगे हैं. मुझे क्या करना चाहिए?

Tags:
COMMENT