वैसे तो 2014 में आमचुनाव में कांग्रेस को उत्तर प्रदेश में केवल 2 सीटें ही मिली थीं. इसके बाद भी 2019 के आमचुनाव में केन्द्र में सरकार चला रही भाजपा के लिये कांग्रेस ही दुश्मन नम्बर एक है. राजस्थान, छत्तीसगढ और मध्य प्रदेश के विधानसभा चुनाव की हार ने भाजपा को अंदर तक हिला कर रख दिया है.

Tags:
COMMENT