महिला विमर्श हिंदू धर्म, आरएसएस और कांग्रेस द्य शैलेंद्र सिंह कांग्रेस महिला विमर्श के मसले पर सच में संवेदनशील दिखाई दे रही है या चुनावी जमीन तैयार कर रही है, यह बाद में पता चलेगा, पर उत्तर प्रदेश में महिलाओं को 40 प्रतिशत सीटें देने और महिला कांग्रेस दिवस पर राहुल गांधी का महिलाओं के नाम आरएसएस पर बेबाक बयान, बहुतकुछ इशारा करता है. आरएसएस जिस मनुवादी विचारधारा का समर्थक है उस में कहा गया है कि ‘महिला को बचपन में पिता के अधीन, यौवनवास्था में पति के आधिपत्य में तथा पति की मृत्यु के उपरांत पुत्र के संरक्षण में रहना चाहिए.

’ पौराणिक ग्रंथों में महिला को ‘पितृसत्ता’ के अधीन रहने को ‘स्त्रीधर्म’ बताया गया. सीता, अहल्या, द्रौपदी, कुंती, गांधारी जैसी जिन महिलाओं को देवी की उपाधि दी गई, ‘पितृसत्ता’ द्वारा उन का भी तिरस्कार किया गया था. राहुल गांधी के आरएसएस की दुखती नस पर दबाव डालने से आरएसएस के लोग तिलमिला गए. जबकि सभी को यह पता है कि आरएसएस का पूर्णकालिक प्रचारक बनने के लिए गृहस्थ जीवन को छोड़ना पड़ता है. आरएसएस में प्रचारकों का एक बहुत बड़ा वर्ग ऐसा है जिस ने शादी नहीं की है. राहुल गांधी ने जो बात कही उस को चुनाव की जगह पर समाज की हालत के साथ मिला कर देखा जाए तो बेहतर विश्लेषण हो सकेगा. भारतीय महिला कांग्रेस की स्थापना दिवस पर बोलते हुए कांग्रेस के सांसद राहुल गांधी ने भारतीय जनता पार्टी और आरएसएस को महिलाविरोधी बताते हुए कहा कि ‘‘भाजपा और आरएसएस महिलाशक्ति को दबाते हैं.’’

ये भी पढ़ें- 5 साल से रिस रहा है नोटबंदी का घाव

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

सरिता डिजिटल

डिजिटल प्लान

USD4USD2
1 महीना (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

डिजिटल प्लान

USD48USD10
12 महीने (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

प्रिंट + डिजिटल प्लान

USD100USD79
12 महीने (24 प्रिंट मैगजीन+डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...