सोशल मीडिया पर बढ़ती महंगाई के बाबत नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार को पानी पी पी कर कोस रहे 95 फीसदी लोगों को पता ही नहीं चला कि जिस प्लेटफार्म टिकट को वे 2 रुपये से दस रुपये का हुआ बता रहे हैं वह अब, कुछ दिनों के लिए ही सही 20 रुपये का कर दिया गया है. व्यापार और कारोबार की भाषा में कहें तो नवरात्रि के साथ ही त्योहारी सीजन शुरू हो चुका है. आम लोगों की जेब कुतरने के लिए बाजार में बम्पर छूट की बहार छाई हुई है. सौ रुपये की चीज डेढ़ सौ की बताकर सवा सौ में बेची जा रही है ग्राहक पच्चीस रुपये की छद्म बचत पर खुश हो रहा है और व्यापारी उसकी शास्वत मूर्खता पर हंसते अपना गल्ला भर रहा है.

Tags:
COMMENT