एक तरफ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कोरोना को रोकने के लिए दिन रात काम करने का दावा कर रहे है, दूसरी तरफ उनके अफसर आधे शहरों में ही फेल होते नजर आ रहे है.असल मे अफसरों को यह लग रहा कि मुख्यमंत्री अपने प्रभाव और शक्तियों के बल पर कोरोना को रोक लेगे उनको काम करने की जरूरत ही नही है. धर्म मे कर्मकांड अगर कोरोना को रोकने में सफल होते तो चर्च, मस्जिदों, गिरजाघरों, मंदिरों और गुरुद्वारा को बन्द करने की जरूरत ही नही पड़ती .

जिस "लाक डाउन" के बल पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कोरोना वायरस को परास्त करने का सपना देख रहा है उसकी जमीनी हकीकत अलग ही है. उत्तर प्रदेश में सभी जिलों की समीक्षा करते समय जो रिपोर्ट जिलाधिकारियों ने भेजी उसका अध्ययन करने के बाद यह पता चला उत्तर प्रदेश के 40 जिलों में लॉक डाउन का पालन मापदंड के अनुसार नहीं किया जा रहा है. इसका मतलब यह है कि उत्तर प्रदेश के आधे जिले लॉक डाउन के प्रभाव में नहीं वहां पर लॉक डाउन के बाद भी वह चीजें हो रही हैं जो कोरोनावायरस को बढ़ाने के मददगार हो सकते हैं.

असुरक्षित राजधानी :

यूपी के इन 40 जिलो में राजधानी लखनऊ सहित 39 और शहर शामिल है. लॉकडाउन का पालन न होने से शासन नाराज है. अवनीश अवस्थी ने 40 जिलों के डीएम और एसपी को पत्र लिख कर सरकार की नाराजगी से अवगत कराया है.

ये भी पढ़ें-#lockdown: एक ही देश में अलग अलग कानून क्यों?

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

सरिता डिजिटल

डिजिटल प्लान

USD4USD2
1 महीना (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

डिजिटल प्लान

USD48USD10
12 महीने (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

प्रिंट + डिजिटल प्लान

USD100USD79
12 महीने (24 प्रिंट मैगजीन+डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...