पार्वती बागरे भोपाल के नजदीक रायसेन जिले के उदयपुरा के सरकारी कालेज में अतिथि विद्वान के पद पर कार्यरत हैं. बीती 11 फरवरी को पार्वती जब भोपाल के नीलम पार्क में मुंडन कराने बैठीं तो उनके लंबे घने और काले बालों पर उस्तरा चलते देख प्रदेश भर से आए कई अतिथि विद्वानों ने घबराकर आंखे बंद कर लीं थीं. कुछ सहेलियों सहित खुद पार्वती की आंखों से भी झर झर आंसू गिर रहे थे. मुंडन कर रहा हज्जाम बाल उनके सामने बिछाता जा रहा था. दृश्य वाकई वितृष्णा वाला था. इन अतिथि विद्वानों को सुकून देती इकलौती बात यह उम्मीद थी कि शायद इस महिला मुंडन से भी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह घबराकर उनकी मांगे मान लें.

COMMENT