आखिरकार वही हुआ जो छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत प्रमोद कुमार जोगी के पुत्र और जनता कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अमित ऐश्वर्या जोगी की चाहत थी. अमित जोगी हर दूसरे दिन मुख्यमंत्री भूपेश बघेल  को चैलेंज करते थे कि मुझे गिरफ्तार किया जाए. मुझे गिरफ्तार किया जाए. अंततः उनकी मंशा 3 सितंबर को भूपेश बघेल ने पूरी कर दी .

छत्तीसगढ़ की राजनीति के जानकार जानते हैं कि मुख्यमंत्री की शपथ के साथ प्रदेश में भाजपा के दिग्गज और पूर्व मुख्यमंत्री डा रमन सिंह भूपेश के कोप के भाजन बने हैं. डौक्टर रमन और उनके खासुलखास दांए बांए सहित पुत्र अभिषेक सिंह, दामाद पुनीत गुप्ता पर अनेक जांच गंभीर प्रकरण कांग्रेस सरकार ने लाद दिए हैं.

इधर अपने घुर विरोधी रहे अजीत जोगी पर भूपेश बघेल की 'वक्र' दृष्टि है इसे सभी जानते हैं मगर भूपेश बघेल उतने तल्ख नहीं हुए जितने भाजपा की मंडली पर रहे हैं. संभवत: इसका कारण अजीत जोगी का विशाल कद और पूर्ववर्ती खट्टे -मीठे संबंध रहे हैं. इधर अजीत जोगी ने भी आश्चर्यजनक रूप से कांग्रेस की भूपेश बघेल सरकार पर 'नम्र' दृष्टि रखी हुई थी.प्रत्यक्ष प्रमाण संसदीय चुनाव रहा जिसमें अजीत जोगी मैदान में उतरते तो कांग्रेस के एक या फिर दोनों बस्तर और कोरबा प्रत्याशी खेत रह जाते.

ये भी पढ़ें- मध्यप्रदेश में कांग्रेस की कबड्डी

अमित जोगी का चैलेंज, गेम- चेंजलर छत्तीसगढ़ में जनता कांग्रेस की बखत नहीं बन पाने के पश्चात अमित जोगी ने अपने पिताश्री की बनाई राजनीतिक धरोहर जनता कांग्रेस जोगी पार्टी की कमान संभालने के बाद धुआंधार ढंग से भूपेश बघेल पर आक्रमण प्रारंभ कर दिया. छत्तीसगढ़ के कोने कोने में घूम-घूम कर ज्वलंत मुद्दे उठाए और हर दिन हुंकार भरी की भूपेश बघेल दम है तो मुझे गिरफ्तार करो  !

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT