आम धारणा है कि घर के बड़े बुजुर्गों की अनदेखी व उत्पीड़न बहुएं करती हैं. कई बार ऐसे प्रकरण या वीडियोज भी सामने आते हैं जहां बहू सासससुर को यातना देती नजर आ जाती है. लेकिन हाल में हुआ एक सर्वे अलग तस्वीर पेश करता है. सर्वे के मुताबिक घर के बुजुर्गों के उत्पीड़न के लिए सबसे ज्यादा जिम्मेदार उनके पुत्र हैं. इस सर्वे के आंकड़ों के मुताबिक सिर्फ राजधानी दून में ही लगभग 80 फीसदी बुजुर्गों का उत्पीड़न होता है और इसमें से लगभग 61 फीसदी बेटे होते हैं जो अपने बुजुर्ग मातापिता को अनदेखा करते हैं.

COMMENT