केसर और बादाम से तैयार होने वाला केसरिया पेड़ा हलके पीले रंग का होता है. वैसे तो इस पेड़े को हमेशा पसंद किया जाता है, पर जाड़ों में इसे ज्यादा पसंद किया जाता है. केसर और बादाम से तैयार होने के कारण इस से शरीर को ताकत और ताजगी मिलती है. भारत के पड़ोसी देश नेपाल में भी यह पेड़ा बहुत पसंद किया जाता है. भारत में 5 सौ रुपए प्रति किलोग्राम की दर से बिकने वाला केसरिया पेड़ा नेपाली करेंसी में 8 सौ रुपए प्रति किलोग्राम की दर से बिकता है. नेपाल में सर्दियों का मौसम लंबे समय तक चलता है, लिहाजा केसरिया पेड़ा वहां सब से ज्यादा पसंद किया जाता है.

केसरिया पेड़ा बनाना सरल होता है. इसे आसानी से बना कर इस का रोजगार भी किया जा सकता है. गांव के लोग इसे बना कर अपने आसपास के बाजारों में बेच सकते हैं. बनाने की विधि सरस होने और रखरखाव में ज्यादा परेशानी न होने की वजह से यह अधिक सरल रोजगार हो गया है. केवल मिठाई का रोजगार करने वाले लोग ही नहीं, दूसरे लोग भी इसे बना कर बेच सकते हैं. कई जगहों पर तो इसे फेरी लगा कर भी बेचा जाता है. ऐसे में केसरिया पेड़े का रोजगार करना सरल होता है.

ये भी पढ़ें-जानिए कैसे तैयार होती है ऐस्प्रैसो कौफी

केसरिया पेड़ा बनाने की सामग्री :

खोया 500 ग्राम,

पिसी चीनी 200 ग्राम,

इलायची पाउडर 1 चम्मच,

बादाम 5-6 (बारीक कटे),

पिस्ता 5-6 (बारीक कटे),

केसर 6-7 धागे,

हरी इलायची 9-10 (दरदरी कुटी हुई),

गरम दूध 1 कप.

ये भी पढ़ें-मानसून स्पेशल: बारिश में बच्चों के लिए बनाएं ये 4 चटपटी डिश

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

डिजिटल

(1 साल)
USD10
सब्सक्राइब करें

डिजिटल + 24 प्रिंट मैगजीन

(1 साल)
USD79
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...