भारत में जन्मे जिम कौर्बेट ने नौकरी और अन्य काम करने के अलावा प्रकृति को करीब से जानासम झा. तभी तो जिम कौर्बेट नैशनल पार्क का नाम पूरी दुनिया में जाना जाता है, पर जिम कौर्बेट ने इस के पीछे छोड़ी है अपनी लगन, संघर्ष और वहां के लोगों का प्यार. जब हम जंगलों, झरनों, पहाड़ों में प्रकृति के नजदीक होते हैं तो खुद से भी कुछ संवाद यानी बात तो करते ही हैं, मगर यह संवाद और बात उस जज्बे, उस संघर्ष के इर्दगिर्द भी तो जरूर घूमनी ही चाहिए जिस ने प्रकृति के उस टुकड़े को इतना पावन बनाए रखने में अपना जीवन लगा दिया.

Tags:
COMMENT