हाई हील्स तकरीबन हर लड़की के वार्डरौब में सबसे खास माना जाता है. ये लड़की की पर्सनालिटी को बेहतर बनाकर उन्हें हौट भी बनाता है. ऐसा कई बार देखा गया है कि लड़कियों को हाई हील्स पहनने से खुशी तो मिलती है लेकिन उसके साथ दर्द भी मुफ्त में मिलता है. एक सर्वे से ये बात पता चली है कि 73 प्रतिशत महिलाएं जो हाई हील्स पहनती हैं उनमें से 69 प्रतिशत को भयानक दर्द झेलना पड़ता है.

अगर आपको भी हाई हिल्स पहनना पसंद है लेकिन पैरों में होने वाले दर्द की वजह से आप इसे पहनने में परहेज करती हैं तो ये खबर खास आपके लिए ही है. हम इस आर्टिकल में आपको कुछ ऐसे घरेलू उपचार के बारे में बताएंगे जिससे पैरों के दर्द में राहत मिलेगा.

तकिये की एक्सरसाइज

जब तक आप इस दर्द से उबरकर नार्मल स्थिति में आने का प्रयास कर रही हैं तब तक आप अपने पैरों के नीचे तकिया रखें और कुछ देर इंतजार करें. पैरों के नीचे तकिया रखने से नर्वस सिस्टम को दोबारा ठीक से काम करने का समय मिल पाता है. इससे पैरों में हुई सूजन भी कम होती है. आप रात में इसे ट्राई करें और आपको अगली सुबह इसका फर्क पता चलेगा.

आइस पैक

हील के दर्द को कम करने में आइस पैक एक सबसे कारगर उपाय है. आइस पैक दर्द को कम करने में काफी असर दिखाता है क्योंकि ये इन्फ्लेम्शन को कम करके पैरों को राहत देता है. इसके लिए आपको एक बोतल को फ्रीज करना है और फिर इस जमी हुई बोतल को अपनी हील के नीचे रखना है. इसे अपने पैरों के नीचे रोल करें, थोड़ी देर रुक कर फिर से ऐसा करें. दोनों पैरों के साथ ऐसा करें जब तक आपको आराम ना मिले.

गर्म और ठंडा

गर्म और ठंडे पानी वाला एक्सरसाइज भी पैरों के दर्द को कम करने में मदद करता है. गर्म पानी जहां शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाता है तो वहीं ठंडा पानी इन्फ्लेम्शन को कम करता है. एक बाल्टी में गर्म पानी लें और एक बाल्टी को ठंडे पानी से भर दें. अब अपने पैरों को कुछ देर के लिए गर्म पानी में डुबाएं और फिर ठंडे पानी में रखें. ये कई बार आपको करते रहना है. बेहतर महसूस होने पर रुक जाएं.

विनेगर

पैरों के दर्द में राहत पाने में विनेगर दूसरा बड़ा उपचार है. ये स्किन के इन्फ्लेम्शन को कम करके दर्द में आराम देता है. एक टब में गर्म पानी लें और उसमें तीन चार चम्मच विनेगर मिला लें. अब इसमें अपने पैरों को रखें और 15 से 20 मिनट तक इंतजार करें. जब आपके पैरों को सुकून मिल जाए तब अपने पैरों को टब से बाहर निकाल लें.

लौंग का तेल

एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होने की वजह से लौंग का तेल हील की वजह से पैरों में उठने वाले दर्द में राहत देता है. आप लौंग का तेल लें और सोने जाने से पहले इसे अपने तलवों में लगा लें. लौंग का तेल सिर्फ पैर के दर्द में ही नहीं बल्कि सिर दर्द और शरीर के दर्द में भी आराम देता है. आपको लौंग के तेल का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए क्योंकि ये शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को ठीक करता है जिससे आप रिलैक्स फील करते हैं.

सेंधा नमक

पैरों में हो रहे दर्द से छुटकारा पाने के लिए थोड़ा सा सेंधा नमक गर्म पानी में डाल दें और उसमें अपने पैरों को डूबा दें. 20 मिनट के लिए उस पानी में ही पैरों को रखें और फिर हल्के गुनगुने पानी से धो लें. आपको तुरंत ही अंतर पता चल जाएगा क्योंकि सेंधा नमक में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाने की क्षमता है जिससे आपकी स्किन को भी राहत मिलती है. मगर सेंधा नमक का इस्तेमाल करते समय आपको एक बात का ध्यान जरूर रखना चाहिए. दरअसल सेंधा नमक का ज्यादा देर प्रयोग करने से आपकी स्किन ड्राई हो सकती है इसलिए आप पानी से पैर बाहर निकालने के बाद तुरंत माइशचराइजर का इस्तेमाल करें

Tags:
COMMENT