ब्‍लाइंड पिम्‍पल, त्‍वचा के सतह के ऊपर नहीं दिखाई देते है. ये मुंहासे त्‍वचा के अंदर एक छोटी सी गांठ के तौर पर उभरकर आ जाते है. हालांकि ये गांठ आपको छूने से मालूम चलते हैं. लेकिन ये दिखाई नहीं देते हैं. इनका कोई खुला प्‍वाइंट नहीं होता है इसलिए ये मामूली समझकर इग्‍नोर न करें. आइए जान‍ते है कि कैसे इनका इलाज किया जा सकता है.

क्‍यों होते है ये पिम्‍पल

ये मुंहासे स्किन के अंदर बैक्‍टीरिया और सीबम के वजह से उत्‍पन्‍न होता है. साथ ही ऑयली स्किन होने और बड़े रोमछिद्र होने की वजह से चेहरे की नियमित क्‍लीजिंग होने के वजह से बैक्‍टीरिया चेहरे के अंदरुनी हिस्‍सों में घुसकर ब्‍लाइंड पिम्‍पल बनकर सामने आ जाते है.

ये भी पढ़ें- होममेड टिप्स: पील औफ मास्क से  ऐसे करें चेहरे की सुरक्षा

कितनी देर तक रहते है

अगर यह पिंपल सिर्फ त्‍वचा के नीचे है तो इन्‍हें ठीक होने में महीना लग सकता है. मगर ये त्‍वचा की ऊपरी हिस्‍सें मे दिखाई देने लगे तो ये आसानी से ठीक किया जा सकता है.

कैसे करें इलाज

मुंहासें किसी भी तरह के हो लेकिन चाहे वो चेहरे पर दिखने वाले हो या छिपे हो. इन्‍हें छूने या दबाने से पिंपल बढ़ते हैं. ऐसे में बेहतर होगा कि आप उन्‍हें छूए नहीं. हालांकि, ब्‍लाइंड पिम्‍पल दिखाई नहीं देता है इसलिए इन्‍हें दबाना भी सम्‍भव भी नहीं है. आप इन्‍हें दवाईयों और घरेलू उपचार से सही कर सकते हैं.

सलिसीक्लिक एसिड

सलिसीक्लिक एसिड मुंहासे को हटाने का बेहतर विकल्‍प है. आप इस एसिड का क्‍लींजर चेहरे पर यूज कर सकता है. अगर आपकी स्किन ड्राई या सेंसटिव तो इस क्‍लींजर को सिर्फ पिम्‍पल एरिया पर ही लगाएं.

बर्फ से भगाएं

अगर इन मुंहासों के वजह से आपको बहुत ज्‍यादा दर्द होता है. तो आपको आइस थैरेपी लेनी चाहिए. पहले सलिसीक्लिक एसिड क्‍लींजर से चेहरे साफ करें और फिर आईस बैग को 1 घंटे में 2 से 3 बार पिंपल्‍स पर रखें. इससे पिंपल्‍स ठंडे हो जाएंगे और राहत भी मिलेगी.

बेंजोईल पेरोक्‍साइड क्रीम

पिंपल्‍स के बैक्‍टीरिया को खत्‍म करने के लिए आप बेंजोईल पेरोक्‍साइड क्रीम भी इस्‍तेमाल कर सकते है लेकिन इसका इस्‍तेमाल दिखने वाले पिंपल पर ही करें. इसके अलावा एक्‍ने वाले एरिया को मौइश्‍चराइज्‍ड भी जरुर करें.

ये भी पढ़ें- उम्र के अनुसार ऐसे निखारें अपनी खूबसूरती

Tags:
COMMENT