कहते है कि धीरज और मेहनत अगर आप के पास हो तो आप किसी भी मुश्किल घड़ी को पार जाते है, यह सही है की हर कामयाब इंसान के रास्ते कठिन होते हैं, कुछ ऐसा ही था अदभुत सुरों की मल्लिका आशा भोंसले की जिंदगी में. जिनका प्रारम्भिक जीवन बहुत संघर्ष के साथ गुजरा. उन्होंने 10 वर्ष की उम्र से गाना शुरू किया था. लता मंगेशकर की छोटी बहन और दीनानाथ मंगेशकर की इस बेटी ने अपनी मेहनत और आत्मविश्वास से यह सिद्ध कर दिया कि वह सबसे अलग है. 9 साल छोटी उम्र में उनके पिता के निधन के बाद पूरा परिवार सांगली से कोल्हापुर और फिर कोल्हापुर से मुंबई आ गया. आशा भोंसले, उनके भाई-बहन उनके तीन बच्चे होने के बावजूद भी काफी संघर्ष के बाद आज वह यहां पहुची है.

COMMENT